‘हम पतले क्या हुए, लोगों ने नकली कहना शुरू कर दिया’, फर्जी कहे जाने पर गुरमीत राम रहीम ने ली चुटकी

National Punjab

न्यूज हंट.चंडीगढ़ : जेल से पैरोल पर आए डेरा सच्चासौदा प्रमुख राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) असली है या नकली, इसको लेकर दायर याचिका को पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab and Haryana High Court) ने खारिज कर दिया था। कोर्ट ने मामले में डेरा श्रद्धालुओं को जमकर फटकार लगाते हुए कहा था कि यह किसी फिल्म में ही संभव है। साथ ही कहा था कि पटीशन दाखिल करते वक्त दिमाग का इस्तेमाल करना चाहिए। अब मामले में राम रहीम ने फर्जी कहे जाने पर सफाई दी है (Fake Ram Rahim)। उन्होंने चंडीगढ़ में एक सत्संग के दौरान तंज भरे लहजे में कहा कि हम पतले क्या हुए, लोगों ने नकली कहना शुरू कर दिया।
दरअसल दायर याचिका में कहा गया था कि पैरोल पर बाहर आए डेरा मुखी के हाव-भाव असली राम रहीम जैसा नहीं है। मामले की सरकार से जांच करवाने की भी मांग की गई थी। पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab & Haryana High Court) में दायर की गई इस अजीबो-गरीब याचिका में आरोप लगाया गया था कि रोहतक की जेल में जो गुरमीत राम रहीम बंद है वह नकली है। वह असली डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम नहीं है. याचिका में कहा गया है कि वास्तविक राम रहीम को अगवा कर लिया गया है। इधर राम रहीम ने फर्जी कहे जाने पर सफाई दी है। राम रहीम ने एक सत्संग के दौरान कहा कि हम पतले क्या हुए, लोगों ने नकली कहना शुरू कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.