ज़िले के किसानों को मानक खाद, बीज और दवाएँ उपलब्ध करवाने के उदेश्य से की गई चैकिंग: मुख्य कृषि अधिकारी

जालंधर पंजाब

जालंधर, 13 मई-  ( न्यूज़ हंट )

खेतीबाड़ी और किसान कल्याण विभागजालंधर की तरफ से खादबीज और दवा विक्रेताओं की अचानक चैकिंग |

खेतीबाड़ी और किसान कल्याण विभाग, ज़िला जालंधर की तरफ से आज खाद, बीज और दवा विक्रेताओं की अचानक चैकिंग की गई, जिस सम्बन्धित और ज्यादा जानकारी देते हुए डा. सुरिन्दर सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी, जालंधर ने बताया है कि ज़िले के किसानों को मानक खाद, बीज और दवाएँ उपलब्ध करवाने के उदेश्य से यह चैकिंग की जा रही है।

            मुख्य कृषि अधिकारी ने बताया ब्लाक भोगपुर और ब्लाक जालंधर पश्चिमी अधीन ब्यास गाँव, काला बकरा, गाँव राउवाली, किश्नगढ़ और इसके साथ लगते इलाके के अलग -अलग खेती इनपुट्टस विक्रेताओं की चैकिंग की गई और इस दौरान पाई गई कमी के बारे में सम्बन्धित इन्नपुटस विक्रेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किये जाएंगे और कानून अनुसार बनती कार्यवाही भी की जायेगी।

            उन्होनें आगे बताया कि चैकिंग दौरान विक्रेताओं की तरफ से स्टाक बोर्ड न लगाने, स्टाक रजिस्टर एक्ट अनुसार सही मेन्टेन न करने और बिना आडिशन से खेती वस्तुएँ बेचने संबंधी बनती कार्यवाही की जायेगी और सम्बन्धित डीलरों की तरफ से सही जवाब न मिलने पर ऐसे डीलरों का लायसेंस भी कैंसल किया जायेगा।

            डा. सिंह बताया इस सीजन में किसानों की तरफ से धान, मक्का का बीज, नदीननाशक और कीटनाशक दवाओं की खरीद की जा रही है। उन्होनें कहा कि किसानों को चाहिए कि वह इन बीज ,खाद और दवाओं की खरीद हमेशा मनज़ूरशुदा और विभाग की तरफ से लायसैंस प्राप्त डीलरों से ही ले और अपना खरीद बिल भी ज़रूर प्राप्त करें।

            इस चैकिंग दौरान कृषि विकास अधिकारी डा. सुरजीत सिंह ने क्वालिटी कंट्रोल एक्ट अनुसार सैंपल लेने की आदेश भी दिए। डा. सुरिन्दर सिंह ने ज़िले के किसानों को फसलों पर सिफारिस अनुसार ही कीटनाशक का प्रयोग करने और हमेशा पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी लुधियाना की तरफ से सिफारिस की तकनीकें का ही इस्तेमाल करने की अपील की।

            डा. सिंह ने कहा कि धान का मंजूरशुदा बीज भरोसेयोग्य जगह से बिल सहित प्राप्त करना बहुत ज़रूरी है और किसान कम कीमत होने पर गाँवों में गलत लोगों से सीधे कीटनाशक, खादें और दवाओं की खरीद करने से बचे और ऐसे लोगों के बारे में सूचना दें, जिससे किसानों को इन धोखेबाजों से बचाया जा सके।

            चैकिंग दौरान उनके साथ डा. नरेश कुमार गुलाटी कृषि अधिकारी बीज और डा. सुरजीत सिंह कृषि विकास अधिकारी पी पी जालंधर भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *