डिप्टी कमिश्नर ने एक अन्य ज़िला निवासी को कोविड दवाओं की काला बाज़ारी उजागर करने पर 25000 रुपए दे कर किया सम्मानित कहा, इसका मुख्य उदेश्य महामारी दौरान लोगों को गलत तरीके से अधिक पैसे वसूलने से रोकना |

जालंधर पंजाब

जालंधर, 21 मई-  ( न्यूज़ हंट )

डिप्टी कमिश्नर जालंधर श्री घनश्याम थोरी ने आज कोविड -19 के गंभीर मरीज़ों की जान बचाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं में काला बाज़ारी करके लाभ कमाने वालों को उजागर करने वाले एक व्यक्ति को सम्मानित किया गया।

 डिप्टी कमिश्नर ने रीमा गुगलानी निवासी माडल हाऊस जोकि फ्री लांसर पत्रकार भी हैं, को 25000 रुपए का चैक सौंपते हुए उनकी तरफ से लोगों की जान बचाने वाली दवाओं की जा रही काला बाज़ारी को उजागर करने के लिए किये गए प्रयत्नों की प्रशंसा की।

उन्होनें बताया कि इस प्रकार के प्रयत्न जीवन रक्षक दवाओं में पारदर्शिता को उत्साहित करने के साथ-साथ दूसरे को भी इस संकट की घड़ी में गलत ढंग तरीके से पैसे कमाने विरुद्ध आवाज़ बुलंद करने के लिए प्रेरित करेगें। उन्होनें कहा कि कोविड -19 के मरीज़ों के इलाज में कमिया और अधिक पैसे वसूलने को बिल्कुल सहन नहीं किया जायेगा और यदि ज़िले में इस प्रकार का केस सामने आता है, तो उसके ख़िलाफ़ सख़्त से सख़्त कार्यवाही की जायेगी।

ज़िक्रयोग्य है कि रीमा गुगलानी की तरफ से कोविड -19 के मरीज़ के इलाज के लिए सोशल मीडिया पर रैमडीसीविर टीकों की ज़रूरत की पोस्ट की गई थी, जिस पर डीलर की तरफ से उसके साथ संपर्क करके उनके पास दवा होने और मनचाही कीमत लेने के बारे में कहा गया। इस उपरांत रीमा गुगलानी की तरफ से मोबायल फ़ोन पर डीलर के साथ हुई बातचीत की रिकार्डिंग और वायस मैसिजज़ डिप्टी कमिश्नर श्री घनश्याम थोरी के साथ सांझे किये गए। इस पर डिप्टी कमिश्नर की तरफ से जांच करवाई गई, जिसमें पुलिस आधिकारियों ने अपराधियों ख़िलाफ़ एफ.आई.आर. दर्ज करने की सिफ़ारिश की गई।

 डिप्टी कमिश्नर ने ज़िला निवासियों से अपील की कि कोविड के इलाज में होने वाली कमियों, इलाज और दवाओं में अधिक पैसे वसूलने सम्बन्धित आगे आए,जिससे राज्य सरकार के दिशा -निर्देशों को सही अर्थों में लागू किया जा सके।

डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि ज़िला प्रशासन स्वास्थ्य संकट की इस घड़ी में ज़िला निवासियों को मानक स्वास्थ्य सुविधाएं राज्य सरकार की तरफ से निर्धारित किये गए वाजिब दामों पर उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होनें कहा कि ज़िला निवासी इस प्रकार की कोई भी जानकारी वटसएप नंबर 9888981881 और 9501799068 और हैल्पलाइन नंबर 0181 -2224417 पर भेज सबूतों सहित भेज सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *