भारतीय स्टेट बैंक ने 15000 मास्क, 15000 दस्ताने, 65 सैनीटाईज़र और 400 लीटर हाईप्रोकलोराईट सिविल सर्जन को किए भेंट |

जालंधर

जालंधर ,25 मई- ( न्यूज़ हंट )

देश के सबसे बड़े सार्वजनिक बैंक ,भारतीय स्टेट बैंक जो कि हर मुश्किल में समाज के प्रत्येक वर्ग के साथ खडा है और अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को समझते हुए लोगों की हर संभव मदद करने के लिए तैयार रहता है, इसी कड़ी में आज कोरोना वायरस महामारी के चलते ज़िले में पैदा हुई स्थिति को देखते हुए भारतीय स्टेट बैंक ने डिप्टी कमिश्नर जालंधर श्री घनश्याम थोरी के नेतृत्व में कोरोना महामारी का असरदार ढंग से मुकाबला करने के लिए कोरोना मरीज़ों और डाक्टरों की ज़रूरतों को देखते हुए ज़रूरत का समान जैसे मास्क, दस्ताने, सैनीटाईज़र और सोडियम हाईप्रोकलोराईट उपलब्ध करवाया ।

इस अवसर पर डिप्टी कमिश्नर जालंधर श्री घनश्याम थोरी ने कहा कि कोरोना वायरस कारण ज़िले में पैदा हुई स्थिति के चलते भारतीय स्टेट बैंक की तरफ से किया गया यह प्रयास प्रशंसनीय  है। उन्होनें कहा कि बैंक की तरफ से उपलब्ध करवाए गए 15000 मास्क, 15000 दस्ताने, 65 सैनीटाईज़र और 400 लीटर सोडियम हाईप्रोकलोराईट कोरोना वायरस महामारी का असरदार ढंग से सामना करने में कोरोना मरीज़ों और डाक्टरों के लिए बहुत लाभदायक होगा। उन्होनें सिविल सर्जन को कहा कि कोरोना वायरस विरुद्ध लड़ाई दौरान बैंक की तरफ से दिए गए सामान को पूरी जिम्मेदारी के साथ ज़रूरतमंदों तक पहुँचाया जाये। उन्होनें अन्य समाज सेवीं संस्थानों को  भी अपील की कि ज़िले में कोरोना वायरस की स्थिति का असरदार ढंग से मुकाबला करने के लिए ज़िला प्रशासन को अधिक से अधिक सहयोग दे, जिससे जल्द से जल्द ज़िले को कोरोना मुक्त बनाया जा सके।

इस अवसर पर भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक श्री प्रदीप कुमार ने कहा कि बैंक ने अपनी, सामाजिक जिम्मेदारी को समझते हुए समाज सेवा का यह छोटा सा प्रयास किया है और भविष्य में भी भारतीय स्टेट बैंक की तरफ से ज़िला प्रशासन को हर संभव सहयोग दिया जायेगा।

इस अवसर पर सिविल सर्जन डा.बलवंत सिंह ने भारतीय स्टेट बैंक का धन्यवाद करते हुए कहा कि कोरोना वायरस विरुद्ध लड़ाई में उनका यह योगदान बहुत मददगार सिद्ध होगा। इस अवसर पर भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य प्रबंधक जे.एम.कालिया, सुभाष वर्मा और उप प्रबंधक पवन बस्सी और ज़िला टीकाकरण अधिकारी डा.राकेश चोपड़ा और अन्य भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *