कोविड -19 प्रोटोकाल की सख़्ती से पालना को यकीनी बनाया जाये -पुलिस कमिश्नर |

जालंधर ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 27 मई- ( न्यूज़ हंट )

अमन -कानून की स्थिति का लिया जायज़ा ज़मानत पर बाहर आए अपराधियों की गतिविधियों पर बारीकी के साथ नजर रखी जाए-सी पी |

पुलिस कमिश्नर जालंधर श्री गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने पुलिस आधिकारियों की बैठक दौरान ज़िले में कोरोना महामारी चलते पैदा हुई स्थिति दौरान कोविड -19 प्रोटोकाल की सख़्ती के साथ पालना को सुनिश्चित बनाने के आदेश दिए। उन्होनें कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही हम सबके लिए बहुत भारी पड़ सकती है, इस लिए हम सभी को चौकस रहने की आवश्यकता है। उन्होनें कहा कि सरकार की तरफ से कोविड प्रोटोकाल सम्बन्धित जारी दिशा- निर्देशों जैसे कि मास्क पहनना और सामाजिक दूरी की पालना करने के उल्लंघन को सहन नहीं किया जायेगा और उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही की जायेगी।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि इस बैठक दौरान संवेदनशील स्थानों पर सुरक्षा प्रबंधों के कारण पुलिस गश्त को तेज़ करना, कोविड प्रोटोकाल को शहर में सख़्ती से लागू करना और एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत गिरफ़्तार अपराधियों की जायदाद ज़ब्त करने सम्बन्धित विस्तार के साथ चर्चा की गई।

 शहर में अमन -कानून की स्थिति का जायज़ा लेते हुए पुलिस कमिश्नर ने फील्ड पुलिस आधिकारियों को कहा कि संवेदनशील लोगों और स्थानों की सुरक्षा प्रबंधों को और मज़बूत किया जाये। उन्होनें ज़मानत पर बाहर आए अपराधियों की गतिविधियों की बारीकी के साथ निगाह रखने के इलावा शहर में रात समय पुलिस की गश्त को बढ़ाने सम्बन्धित भी आदेश दिए गए। उन्होनें सभी एस.एच.ओज़ को भी इस प्रकार के अपराधियों की सूचियां बनाकर उन पर निगाह रखने के लिए कहा।

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि पुलिस टीमों /पी.सी.आर. स्टाफ को शहर में पुलिस पैट्रोलिग को विशेष कर जहाँ लोगों की भारी भीड होती है जैसे कि शापिंग मालज़, बाज़ार और अन्य स्थानों पर 24 घंटे पुलिस पैट्रोलिग को सुनिश्चित किया जाये। उन्होनें कहा कि सुरक्षा व्यवस्था को औऱ ज़्यादा जवाबदेह और समर्थ बनाने के लिए हर तरह के प्रयत्न किये जाएँ।

उन्होनें कहा कि शहरी पुलिस का मुख्य उदेश्य अपराधों को रोकना और ज़िला निवासियों में सुरक्षा की भावना को मज़बूत करना  होना चाहिए। उन्होनें कहा कि किसी को भी कानून अपने हाथों में लेने की इजाज़त नहीं दी जायेगी।

 इस अवसर पर पुलिस कमिश्नर ने एन.डी.पी.एस.एक्ट के अंतर्गत दर्ज मामलों में अपराधियों की जायदादों को ज़ब्त करने सम्बन्धित स्थिति का भी जायज़ा लिया गया और आधिकारियों को ऐसी प्रक्रिया को औऱ तेज़ करने के आदेश दिए। इस अवसर पर दूसरो के इलावा डिप्टी कमिश्नर पुलिस गुरमीत सिंह, नरेश डोगरा, जगजीत सरोआ और शहरी पुलिस के सभी एस.एच.ओज़ उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *