किसी के मृतक शरीर पर दावा न किये जाने पर प्रशासन ने निभाई कोविड प्रभावित व्यक्ति के अंतिम संस्कार की रस्में |

जालंधर पंजाब

जालंधर, 17 जून ( न्यूज़ हंट ) :

डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी के आदेशों पर ज़िला प्रशासन जालंधर के आधिकारियों ने आज एक बार फिर कोविड -19 कारण दम तोड़ देने वाले व्यक्ति, जिसके पारिवारिक सदस्यों में से कोई भी मृतक शरीर पर दावा करने के लिए आगे नहीं आया, का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया।

इस बारे में और ज्यादा जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि सिविल अस्पताल में एक कोविड -19 पाजिटिव मरीज़ को दाख़िल करवाया गया था, जिसकी अगले दिन मौत हो गई। मरीज़ की पहचान निर्मल सिंह (50) कपूरथला रोड के तौर पर हुई थी। उन्होनें आगे बताया कि मरीज़ की मौत के बाद मृतक शरीर पर दावा करने के लिए कोई भी आगे नहीं आया और अटेंडैटों का फ़ोन नंबर बंद आता रहा। मृतक शरीर को करीब 10 दिन मोरचरी में रखा गया और आधिकारियों की तरफ से मृतक के पारिवारिक सदस्यों का पता लगाने के लिए ठोस प्रयत्न भी किये गए।

श्री थोरी ने बताया कि मृतक शरीर को स्वास्थ्य अथारिटी की तरफ से स्थानीय सिविल अस्पताल में डा. कामराज की निगरानी में प्रोटोकोल अनुसार लपेटा गया और फिर संस्कार के लिए श्मशानघाट में लाया गया, जहाँ आधिकारियों की तरफ से एन.जी.ओ. आखिरी उम्मीद के साथ संस्कार सम्बन्धित अंतिम रस्मों को सम्मान से पूरा किया गया।

डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने ज़िला निवासियों से अपील की कि जिन व्यक्तियों के संस्कार के लिए कोई पारिवारिक सदस्य या कोई और आगे नहीं आता और इस प्रकार की सहायता के लिए प्रशासन के कंटोरल रूम नंबर 0181 -2224417 और 0181 -2224848 पर संपर्क किया जा सकता है। उन्होनें कहा कि ज़िला प्रशासन की तरफ से चल रहे स्वास्थ्य संकट दौरान ज़िला निवासियों की हर संभव मदद के लिए दिन रात काम किया जा रहा है। उन्होनें ज़िला निवासियों को कोविड -19 महामारी की दूसरी लहर पर काबू रखने लिए प्रशासन को पूर्ण सहयोग देने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *