ज़िला प्रशासकीय कंपलैक्स में 24 घंटे काम करने वाला बाढ़ कंट्रोल रूम स्थापित किया जायेगा: डिप्टी कमिश्नर

जालंधर पंजाब

जालंधर, 18 जून ( न्यूज़ हंट ) :

डिप्टी कमिश्नर जालंधर घनश्याम थोरी ने आज कहा कि ज़िला प्रशासन की तरफ से जिले में किसी भी तरह की बाढ़ जैसी स्थिति की निगरानी के लिए प्रशासकीय कंपलैक्स में बाढ़ कंट्रोल रूम शुरू किया जाएगा, जो कि 24 घंटे काम करेगा।

मुख्य सचिव विनी महाजन की अध्यक्षता में हुई राज स्तरीय समीक्षा बैठक में हिस्सा लेने के बाद डिप्टी कमिश्नर ने ए.डी.सी. विशेष सारंगल और जसबीर सिंह के साथ जिले में बाढ़ प्रबंधन सम्बन्धित सभी विभागों को दिशा -निर्देश दिए। उन्होनें आधिकारियों को कहा कि कंट्रोल रूम में नियुक्त किये जाने वाले स्टाफ के ड्यूटी रोस्टर को जल्दी से जल्दी अंतिम रूप दिया जाये। उन्होनें कहा कि स्टाफ की प्रभावशाली ढंग के साथ निगरानी के लिए प्रशासन के सीनियर आधिकारियों को भी इस कंट्रोल रूम की जांच के लिए रोटेशन के आधार पर नियुक्त किया जाएगा।

बाढ़ कंट्रोल प्रबंधों का जायज़ा लेते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि ज़िला प्रशासन पूरी तरह चौकस रहेगा, जिससे आने वाले बरसात के मौसम कारण किसी भी असुखद घटना से बचा जा सके। उन्होनें आधिकारियों को बाढ़ संभावी संवेदनशील स्थानों को मज़बूत करने के निर्देश भी दिए जिससे किसी भी बाढ़ की संभावना में नुक्सान को कम से कम किया जा सके। उन्होनें कहा कि ज़िला प्रशासन की तरफ से बरसाती मौसम के चलते किसी भी स्थिति के साथ पूर करने के लिए पहले ही उचित प्रबंध कर लिए गए है।

डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि प्रत्येक विभाग की तरफ से योजना तैयार की गई है और वह किसी भी स्थिति के साथ निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होनें यह भी कहा कि बाढ की स्थिति में निकासी योजना को पहले ही अंतिम रूप दिया जा चुका है और संवेदनशील स्थानों के साथ सुरक्षित स्थानों की भी पहचान कर ली गई है, जहाँ ज़रूरत पड़ने पर बाढ़ प्रभावित इलाकों के निवासियों को भेजा जाएगा। उन्होनें बाढ़ की स्थिति के साथ पूरा करने के लिए ख़ुराक और स्पलाई, सिंचाई, बिजली, ड्रेनेज, नगर निगम और पुलिस विभाग की तरफ से किये गए प्रबंधों की भी समीक्षा की। श्री थोरी ने ड्रेनेज विभाग को ज़िले के सभी नालों की सफ़ाई का काम तुरंत शुरू करने के लिए कहा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *