धरती के संजीव देवता हैं डाक्टर: संजीव तलवाड़।

पंजाब होशियारपुर

होशियारपुर 1 जुलाई (न्यूज़ हंट ):

कोरोना महामारी के दौरान मरीजों को डाक्टरों में चलता फिरता भगवान दिखाई देता था और डाक्टरों ने भी धरती के देवता होने का फर्ज पूरी निष्ठा व ईमानदारी से निभाया है। उपरोक्त शब्द यूथ डिवैलपमैंट बोर्ड के पूर्व चेयरमैन संजीव तलवाड़ ने अंर्तराष्ट्रीय डाक्टर्स दिवस पर सैनी सभा स्कूल के बच्चों दवारा सिवल अस्पताल होशियारपुर के सीनियर मैडीकल अधिकारी डा़ जसंिवंदर सिंह व उन की टीम दवारा कोरोना महामारी में निभाई जा रही भू्मिका के मद्देनकार उन्हे सम्मानित करने के अवसर पर आयोजित समारोह में कहे।
संजीव तलवाड़ ने कहा कि जब खून के रिश्ते महामारी का नाम सुन कर पानी हो रहे थे, उस समय डाक्टरों  व पैरा मैडीकल स्टाफ ने मरीजों को न केवल बीमारी से उभारा, बल्कि उन्हे अपने स्नेह से नए रिश्तों का आभास भी करवाया।
इस मौके पर सैनी सभा सीनियर माडल स्कूल की प्रिंसीपल श्री मति रजनी तलवाड़ ने कहा कि पूरा समाज इन कोरोना योध्दाओं का कर्जदार है। आज जो बच्चे अपने नायकों को जानते हैं, उन्हे यह बताया गया है कि उन नायकों में नया नाम डाक्टरों का जुड़ गया है, जिन्होने चौबीसों घंटे लगातार मेहनत कर हजारों लोगों की जान बचाई है। उन्होने कहा कि डाक्टरों की इस तपस्या को समझते हुए स्कूल के बच्चों ने अपने हाथों से स्मृतियां बना कर डाक्टरों को भेंट की हैं।
इस अवसर पर डा़ जसविंदर सिंह ने कहा कि बेशक सभी डाक्टरों ने अपनी डियूटी निभाई है, फिर भी इन बच्चों के माध्यम से समाज दवारा मिले स्नेह ने आगे से और भी बढिय़ा काम करने का जज्बा उन में भरा है। उन्होने बच्चों को आर्शीवाद देते हुए व उन की सराहना करते हुए कहा कि वो मेहनत व लग्र से अपना लक्ष्य हासिल करें।
इस मौके पर रंजीव तलवाड़, प्रिया मैडम, पूजा मैडम, मनीषा सैनी, जसप्रीत, शमीम, शमशिदा भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *