जिला पठानकोट के समूह सरकारी स्कूलों में 22 जुलाई को लगेगा लाइब्रेरी लंगर

पंजाब पठानकोट
पठानकोट, 20 जुलाई ( न्यूज़ हंट ) – अलग -अलग सह – शैक्षणिक गतिविधियों के बाद शिक्षा विभाग अब एक विलक्षण छाप छोड़ने जा रहा है। विद्यार्थियों को साहित्य के साथ जोड़ने के लिए विभाग एक निवेकली किस्म की पहल लाइब्रेरी लंगर लगाकर कर रहा है।
जिला शिक्षा अफसर पठानकोट (सेकंडरी) जसवंत सिंह और जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री पठानकोट बलदेव राज ने बताया कि पठानकोट जिले में यह उद्यम 22 जुलाई को किया जा रहा है। घर बैठे विद्यार्थियों को साहित्य के साथ जोड़ने के लिए और उनको किताबों की महत्ता से अवगत करवाने के लिए अध्यापक उत्साहित हैं।
उन्होंने बताया कि विभाग के दिशा-निर्देशों अनुसार 22 जुलाई को जिला पठानकोट के हर एक सरकारी स्कूल की तरफ से लाइब्रेरी लंगर लगाया जायेगा। जिला पठानकोट के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले हर विद्यार्थी तक पुस्तकालय की किताब का पहुंचाना ही इस मुहिम का मकसद होगा और साथ ही विद्यार्थियों को किताबों की महत्ता बताते हुए, साहित्य के साथ जोड़ने के लिए प्रेरित किया जायेगा।
उप जिला शिक्षा अफसर पठानकोट (सेकंडरी) राजेश्वर सलारीया और उप जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री पठानकोट रमेश लाल ठाकुर ने कहा कि लाइब्रेरी लंगर की इस मुहिम को ले कर प्रिंसिपल, मुख्याध्यापक, सीएचटी, एचटी, स्कूल इंचार्ज और अध्यापकों में बड़ा उत्साह है। वह विद्यार्थियों को किताब सभ्याचार की तरफ ले कर जाने के लिए उतावले हैं। उन्होंने बताया कि इस तरह के प्रयासों के भविष्य में शानदार निष्कर्ष निकलेंगे । यदि हम विद्यार्थियों को साहित्य के साथ जोड़ने में कामयाब हो जाते हैं तो हमारे विद्यार्थी सामाजिक बीमारियों से बचते हुए अपने भविष्य की तरफ बढ़ेंगे और देश के जिम्मेदार नागरिक साबित होंगे।
उन्होंने अपील की कि इस मुहिम को कामयाब बनाने के लिए समूह प्रिंसिपल, स्कूल प्रमुख, अध्यापक और लैक्चरर अपना योगदान देने और विद्यार्थियों तक लाइब्रेरी पुस्तकें पहुंचाने के प्रयास करें। जिला मैटर पंजाबी विनोद अत्तरी और जिला मैटर हिंदी रमेश कुमार ने बताया कि पढ़ो पंजाब, पढ़ाओ पंजाब की टीमों के साथ तालमेल करके लाइब्रेरी लंगर की मुहिम को सफल बनाने के लिए तैयारियां आरंभ की जा चुकीं हैं। उन्होंने कहा कि इस मिशन की कामयाबी के लिए पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब टीम पंजाबी पठानकोट और टीम हिंदी, अध्यापकों की सहायता के लिए तैयार -बर -तैयार हैं। हमारा सिर्फ यही मकसद है कि हर घर तक, हर विद्यार्थी तक लाइब्रेरी की पुस्तक पहुंचे और विद्यार्थियों को पुस्तकें पढ़ने की लगन लगे।
उन्होंने बताया कि इस मुहिम के लिए अध्यापकों में भी काफ़ी उत्साह है। अलग – अलग स्कूलों ने अपने -अपने पोस्टर बना कर शेयर किये हैं जो काबिले तारीफ हैं। उन्होंने समूह लाइब्रेरी इंचार्ज साहिबान को विनती की कि इस मुहिम के प्रचार और प्रसार में योगदान डालने।
इस मौके पर डीएसएम बलविंदर सैनी, जिला कोआरडीनेटर पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब वनीत महाजन, स्मार्ट स्कूल कोआरडीनेटर संजीव मनी,  जिला कोआरडीनेटर मीडिया सेल बलकार अत्तरी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *