डिप्टी कमिश्नर के आदेश पर स्वास्थ्य टीम ने गुरू नानक पुरा में चल रहे अन -अधिकारित क्लीनिक पर की छापेमारी, 4600 कैप्सूल और दवाएँ जब्त

जालंधर पंजाब

जालंधर, 21 जुलाई ( न्यूज़ हंट )- डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी के दिशा -निर्देशों पर स्वास्थ्य टीम ने गुरू नानक पुरा पश्चिमी इलाके के एक क्लीनिक में जाँच की और वहाँ से 4600 गोलियाँ और कैप्सूल, 186 टीके बरामद किए। इस बारे में और ज्यादा जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि गुरू नानक पुरा पश्चिमी इलाके में टलीवालिया क्लीनिक में ग़ैर कानूनी मैडीकल प्रेक्टिस के बारे में शिकायत मिली थी। उन्होनें बताया कि इस सम्बन्धित सिविल सर्जन जालंधर डा. बलविन्दर सिंह को आदेश जारी किए गए, जिसके बाद ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी डा. अरुण वर्मा और ड्रग कंट्रोल अधिकारी डा. अमरजीत सिंह की अगवाई में स्वास्थ्य टीम की तरफ से छापेमारी की गई।

ड्रग कंट्रोल अधिकारी डा. अमरजीत सिंह ने बताया कि क्लीनिक का मालिक सुरिन्दर सिंह क्लीनिक में मौजूद था, जो एलोपैथी प्रेक्टिस करने के लिए कोई उचित डाक्टरी डिगरी पेश नहीं कर सका। इसके इलावा एलोपैथिक दवाओं को स्टोर करने या बेचने सम्बन्धित भी कोई लायसैंस पेश नहीं किया गया, जिस कारण यह दवाएँ ज़ब्त कर ली गई। डा. सिंह ने यह भी बताया कि क्लीनिक में से 25 किस्म की अलग -अलग दवाएँ ज़ब्त की गई हैं। इन दवाओं में 3930 गोलियाँ, 670 कैप्सूल और 186 टीके शामिल है, जिन की कीमत 30,000 रुपए बनती है और स्टाक का कोई रिकार्ड मौजूद नहीं था।

ड्रग कंट्रोल अधिकारी ने आगे बताया कि इस मामले में ड्रग और कॉस्मेटिक एक्ट के अंतर्गत नोटिस जारी किया जाएगा। इसके इलावा क्लीनिक के मालिक से जवाब प्राप्त करने के बाद अदालत में केस दायर किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *