राणा गुरमीत सिंह सोढी ने जालंधर में 7.75 करोड़ के खेल बुनियादी ढाँचे सम्बन्धित तीन प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखा

खेल जालंधर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 28 अगस्त ( न्यूज़ हंट )- पंजाब के खेल और युवक सेवाओं के मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने शनिवार को राष्ट्रीय खेल दिवस की पूर्व शाम खेल सभ्याचार को बढ़ावा देते हुए जालंधर में 7.75 करोड़ रुपए की लागत वाले खेल बुनियादी ढाँचे के साथ सम्बन्धित तीन प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखा और इसके साथ ही स्थानीय लायलपुर खालसा कालेज में एस्ट्रो टर्फ का उद्घाटन भी किया।

राणा गुरमीत सिंह सोढी, जिन के साथ सांसद मैंबर चौधरी संतोख सिंह, विधायक रजिन्दर बेरी, अवतार हेनरी जूनियर, मेयर जगदीश राज राजा, काऊंसलर नगर निगम सुनीता रिंकू भी मौजूद थे, ने सबसे पहले हँसराज स्टेडियम में टेबल टैनिस हाल के नवीनीकरण के प्राजैकट का नींव पत्थर रखा, जिस पर एक करोड़ रुपए की लागत आयेगी। उन्होंने कहा कि इस प्राजैकट के अंतर्गत अगले कुछ महीनों में एल.ई.डी. लाईटिंग, वुडन फलोरिंग, बाथरूम और चेंजिंग रूम साथ-साथ हाल के अंदर नई छत यकीनी बनाई जाएगी।

इस उपरांत खेल मंत्री अंतराष्ट्रीय खिलाड़ियों की नर्सरी के तौर पर जाने जाते स्पोर्टस कालेज पहुँचे, जहाँ उन्होनें सिंथैटिक अथलैटिक ट्रैक को फिर बिछाने का नींव पत्थर रखा, जो कि 6.50 करोड़ रुपए की लागत के साथ विकसित किया जायेगा और 25 लाख रुपए के साथ 50 मीटर के स्विमिंग पुल का नवीनीकरण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यह पंजाब का पहला स्मार्ट सिंथैटिक एथलेटिक ट्रैक होगा, जिसको विश्व अथलैटिकस फैडरेशन से मान्यता प्राप्त यूरोप से मंगवाया जा रहा है। उन्होनें कहा कि यहाँ फ़ुटबाल ग्राउंड बनाने के इलावा एल.ई.डी. फलड्ड लाईटें भी लगाई जाएंगी। मौजूदा स्विमिंग पुल को खिलाड़ियों के लिए अति -आधुनिक सुविधाओं के साथ लैस किया जाएगा। उपरांत खेल मंत्री ने स्थानीय लायलपुर खालसा कालेज में सिक्स -ए-साईड हाकी एस्ट्रो टर्फ का उद्घाटन भी किया।

सभा को संबोधित करते हुए राणा सोढी ने आशा व्यक्त की कि अति आधुनिक खेल बुनियादी ढांचा क्षेत्र में विश्व स्तरीय खिलाड़ी तैयार करने में बेहद सहायक होगा। उन्होनें कहा कि पंजाब सरकार शहर में विश्व स्तरीय खेल बुनियादी ढांचा विकसित करके जालंधर की शान को फिर सुरजीत करने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में जालंधर जल्द ही देश में खेल में सर्वश्रेठ बन कर उभरेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से पहले ही स्पोर्टस कालेज में बुनियादी ढांचे को अपग्रेड करने के लिए विशेष प्राजैकट शुरू करने के इलावा यहाँ नए नए कोर्स भी शुरू किये गए है।

उन्होंने कहा कि मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की दूरअन्देशी सोच और गतीशील नेतृत्व में राज्य सरकार खेल के क्षेत्र में आगे बढ़ रही है। उन्होनें कहा कि पिछले साढ़े चार सालों में राज्य में खेल के स्तर को ऊँचा उठाने के लिए विशेष प्रयत्न किये गए है, जिसके लिए पंजाब की तरफ से एक नयी खेल नीति भी तैयार की गई है।

खेल मंत्री ने कहा कि नयी खेल नीति खिलाड़ियों की अजीविका सुरक्षित करने पर केंद्रित है, जो खेल के क्षेत्र में राज्य और देश का नाम रौशन करते है और साथ ही उनके सर्वपक्क्षीय विकास को भी यकीनी बनाती है।

उन्होनें कहा कि नई नीति के अंतर्गत मैडल विजेताओं के लिए नकद पुरुस्कार की राशि में विस्तार किया गया है और 12 अगस्त को सरकार की तरफ से पंजाब के 20 टोक्यो ओलम्पियनस में 28.30 करोड़ रुपए के नकद पुरुस्कार बाँटे गए है।

ज़मीनी स्तर पर खेल को उत्साहित करने के लिए उन्होनें हर जिले और उप -मंडल स्तर पर स्विमिंग पुल और मानक अथलैटिक ट्रैक विकसित करने का ऐलान किया और बताया कि विभाग ने एस.ए.एस. नगर में 10 मीटर की अंतराष्ट्रीय मानक शूटिंग रेंज भी शुरू है।

इस दौरान खेल मंत्री ने भारतीय हाकी टीम के खिलाड़ियों, जिन्होनें हाल ही में टोक्यो ओलम्पिक्स में अपने शानदार प्रर्दशन के साथ देश का नाम रौशन किया, के साथ बातचीत भी की। उन्होनें कहा कि उनकी जीत उभरते खिलाड़ियों में खेल प्रति प्यार की भावना पैदा कर उन को प्रेरित करती रहेगी।

इस अवसर पर दूसरो के इलावा अतिरिक्त प्रमुख सचिव खेल राज्य कमल चौधरी, डायरैक्टर खेल डी.पी.ऐस. खरबन्दा, ज्वाईंट डायरैक्टर खेल करतार सिंह, ज़िला खेल अधिकारी गुरप्रीत सिंह, प्रिंसिपल लायलपुर खालसा कालेज गुरपिन्दर सुँघ समरा, तैराकी कोच उमेश शर्मा, जनरल सचिव पंजाब टेबल टैनिस एसोसीएशन पंकज शर्मा, प्रधान जालंधर टेबल टैनिस ऐसोसीएशन विनी गुप्ता और स्पोर्टस प्रमोटर राणा टूट, सुरिन्दर भप्पा भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *