डिप्टी कमिश्नर ने मल्टी स्किल डिवैल्पमैंट सेंटरों का किया दौरा, कोर्स को नतीजा प्रमुख बनाने के लिए विद्यार्थियों का फीडबैक लिया

जालंधर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 25 सितम्बर (न्यूज़ हंट)- करियर में कौशल विकास की महत्ता पर ज़ोर देते हुए डिप्टी कमिश्नर श्री घनश्याम थोरी ने आज पंजाब कौशल विकास मिशन को राज्य सरकार की एक अन्य महत्वपूर्ण पहल करार दिया, जिसका उद्देश्य राज्य से बेरोजगारी को ख़त्म करना है।
डिप्टी कमिश्नर ने कपूरथला रोड और मकसूदा में स्थित दो मल्टी स्किल डिवैल्पमैंट सेंटरों के अपने दौरे दौरान कहा कि कौशल आधारित प्रशिक्षण बेरोजगार युवाओं के लिए रोज़गार के नये रास्ता खोल कर उनके जीवन में बड़ा बदलाव ले कर आयेगा ।उन्होंने कहा कि युवाओं को मानक कौशल प्रशिक्षण प्रदान कर बेरोजगारी और गरीबी की समस्या को आसानी के साथ दूर किया जा सकता है। उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि अलग -अलग कोर्स में कौशल प्रशिक्षण युवाओं के लिए रोज़गार के नये रास्ता खोल सकता है, जो कि समय की ज़रूरत है। इसके साथ ही कौशल प्रशिक्षण युवाओं को स्व -रोज़गार के भी कई अवसर प्रदान कर सकता है, जिसके साथ वह अपनी ज़िंदगी स्वाभिमान के साथ जीने के समर्थ बन सकते हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि नए हालात के चलते अब आई.टी. और स्वास्थ्य संभाल सेवाओं के साथ सम्बन्धित कौशल विकास कोर्स भी शुरू किये जा रहे है ।उन्होंने बताया कि कोविड केयर सेंटरों के लिए भागीदारो को प्रशिक्षण देने के लिए एक 21 दिवसीय कौशल कोर्स भी चल रहा है जिससे कोविड -19 की तीसरी लहर यदि आती है तो ऐसी स्थिति में हमारे पास काम शक्ति की कमी न हो।

इस दौरान डिप्टी कमिशनर ने दोनों केन्द्रों में भागीदारों के साथ बातचीत की और इन पाठ्यक्रमों को और ज्यादा नतीजा प्रमुख बनाने के लिए फीडबैक भी लिया। उन्होंने विद्यार्थियों को कोर्स सामग्री और मोबाइल टेबलेट भी बाँटे और नौजवानों को इस मिशन में अधिक से अधिक भागीदार बनने के लिए भी प्रेरित किया।
पंजाब स्किल डिवैल्पमैंट मिशन के सूरज कलेर ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि इस समय पर मैकसूदा कैंपस में ब्राईडल मेकअप आर्टिस्ट, वैलडिंग, सी.ऐन.सी. आपरेटर और कोविड योद्धाओं के लिए कस्टमाईज़ड करैश कोर्स सहित अलग -अलग कोर्स करवाए जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *