डिप्टी कमिश्नर ने खरीद एजेंसियों को मंडियों में धान की सुरक्षा के लिए तरपाल और बारदाने के उचित प्रबंध करने के आदेश दिए

जालंधर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 18 अक्तूबर (न्यूज़ हंट)- डिप्टी कमिश्नर श्री घनश्याम थोरी ने आज खरीद एजेंसियों को मौसम की अनिश्चितता विशेषकर बारिश की संभावना के चलते अनाज मंडियों में तरपाल और बरदाने के उचित प्रबंधों को यकीनी बनाने के लिए कहा।

खरीद एजेंसियों के साथ समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि ज़िला प्रशासन किसानों की फ़सल को बारिश से सुरक्षित रखने के लिए वचनबद्ध है और बारिश की संभावनों के चलते ज़रुरी प्रबंध पहले ही किये हुए है । उन्होंने बताया कि पूरे स्टाफ की डियूटी पहले ही लगा दी गई है जिससे बिना मौसम बारिस कारण किसानों को किसी किस्म की समस्या का सामना न करना पड़े।

धान की खरीद का जायज़ा लेते हुए श्री थोरी ने कहा कि जालंधर में 403.56 करोड़ की अदायगी की जा चुकी है, जो कि राज्य में सब से अधिक है। इसी तरह आज तक 75.92 प्रतिशत फ़सल की लिफ्टिंग की जा चुकी है, जो कि कुल 2,79,901 मीटरिक टन फ़सल में से 2,12,505 मीटरिक टन धान की फ़सल बनता है।

डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को अदायगी और लिफ्टिंग की मौजूदा रफ़्तार को बरकरार रखने के निर्देश दिए जिससे चल रहे धान के खरीद सीज़न दौरान राज्य में अग्रणी स्थान को कायम रखा जा सके। उन्होंने कहा कि अनाज की तुरंत लिफ्टिंग को यकीनी बनाने के लिए मंडियों में बारदाने की अपेक्षित उपलब्धता है।

ज़िला ख़ुराक और सिवल सप्लायी कंट्रोलर हरशरन सिंह ने कहा कि ज़िला प्रशासन जालंधर में उचित और निर्विघ्न खरीद सीज़न को यकीनी बनाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि फ़सल की खरीद, लिफ्टिंग और भुगतान सुचारू ढंग के साथ चल रहा है और सभी खरीद कामों दौरान किसानों की सहायता के लिए कोई कमी बाकी नहीं छोड़ी जायेगी।

इस दौरान डिप्टी कमिश्नर ने जालंधर ज़िले में पराली जलाने के मामलों की स्थिति का भी जायज़ा लिया और आधिकारियों को ऐसीं घटनाएँ पर चौबीस घंटे नज़र रखने और अगर कोई ऐसा मामला सामने आता है तो सम्बन्धित आधिकारियों को रिपोर्ट करने के लिए कहा। उन्होंने आधिकारियों को ऐसे पुष्टि किये मामलों में कार्यवाही शुरू करने के निर्देश भी दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *