डी.ए.पी.खाद की कालाबज़ारी करने वाले डीलरों के ख़िलाफ़ होगी सख़्त कार्यवाही: अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर

जालंधर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 25 अक्तूबर (न्यूज़ हंट)- ज़िला जालंधर में किसानों को डी.ए.पी. खाद की सप्लाई सुचारू ढंग से करने के लिए अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर, जालंधर (जनरल) श्री अमरजीत बैंस ने मुख्य कृषि अधिकारी, जालंधर डा. जसवंत राय और डिप्टी रजिस्ट्रार सहकारी सभाओं से आए अधिकारी के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए ज़िले अधीन सहकारी सभाओं और प्राईवेट डीलरों के द्वारा किसानों को डी.ए.पी. खाद की सप्लाई सरकारी मापदण्डों अनुसार करने के निर्देश दिए।

अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने सहकारी सभाओं के द्वारा डी.ए.पी खाद की सप्लाई का जायज़ा लेते हुए बताया कि ज़िलो में हाड़ी सीजन के लिए 10486 मीट्रिक टन डी.ए.पी.खाद सहकारी सभाओं के पास पहुंच चुकी है। उन्होंने आधिकारियों को निर्देश दिए कि सहकारी सभाओं की तरफ से तुरंत पी.ओ.एस. मशीनों में पड़ा और पहले ही बिक चुके डी.ए.पी.खाद के स्टाक को खाली किया जाये जिससे इस खाद की ओर सप्लाई से सम्बन्धित सरकार को कहा जा सके।

उन्होंने ज़िले अधीन समूह प्राईवेट डीलरों को खाद का स्टोर स्टाक बोर्ड पर रोज़मर्रा मेन्टेन करने की निर्देश देते हुए कहा कि यह निश्चित किया जाये कि कोई डीलर खाद की कालाबाजारी न करे और सही रेट पर ही किसानों को खाद की बिक्री की जाये। श्री बैंस ने कहा कि ऐसा न करने पर डीलरों पर बनती कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि सभी खाद विक्रेता की दुकान पर हलका ब्लाक कृषि अधिकारी या कृषि विकास अधिकारी का मोबायल नंबर ज़रूर दिखाया जाये जिससे ज़रूरत पड़ने पर किसान की तरफ से शिकायत दर्ज करवाई जा सके।

इस मीटिंग के दौरान मुख्य कृषि अफ़सर, जालंधर डा.जसवंत राय ने बताया कि भविष्य में डी.ए.पी खाद के रैक लगने की संभावना है और कृषि विभाग किसानों तक डी.ए.पी खाद की सप्लाई सुचारू ढंग से यकीनी बनाने के लिए पाबंद है। उन्होंने बताया कि किसानों से ज्यादा मूल्य या खाद के साथ कोई अन्य वस्तु की ज़बरदस्ती बिक्री करने वाले डीलरों की शिकायत आने पर कानून अनुसार कार्यवाही की जायेगी।

डा.राए ने किसानों को ऐसे खाद विक्रेताओं के बारे विभाग के आधिकारियों के ध्यान में लाने की अपील की जिससे कानून अनुसार बनती कार्यवाही की जा सके। डा. जसवंत राय ने किसानों को सलाह देते हुए कहा है कि डी ए पी खाद के बदल के तौर पर मार्केट में मिल रही खाद ऐन पी के या 20: 20:0आदि का प्रयोग करके भी आलू या गेहूँ की काश्त कामयाबी के साथ की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.