राज्य में खेल समर्थक माहौल बनाने के लिए पुराने खिलाड़ियों को आगे आना पड़ेगा : परगट सिंह

Punjab ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 31 अक्तूबर (न्यूज़ हंट)- पंजाब को खेल के क्षेत्र में फिर देश का अग्रणी राज्य बनाने और युवाओं को खेल के साथ जोड़ने के लिए सभी को मिल कर प्रयास करना होगा,जिसके लिए विशेष तौर पर पुराने खिलाड़ियों को भी आगे आना होगा। यह बात पंजाब के खेल और शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने आज यहाँ लायलपुर खालसा कालेज जालंधर में चौथी बाबा जी एस बौद्धी वैटर्न हाकी लीग के फ़ाईनल मैच दौरान खिलाड़ियों को संबोधन करते हुए कही।

इस अवसप पर परगट सिंह जो पूर्व हाकी ओलम्पियन है, ने भी वैटर्न खिलाड़ियों के साथ हाकी मैच खेला। हाकी मैदान में परगट सिंह का वही स्किल देखने को मिला। छोटी आयु के खिलाड़ी, खेल मंत्री परगट सिंह को खेलता देख कर बहुत उत्साहित हुए और उन्होंने अपने समय के दिग्गज खिलाड़ी रहे परगट सिंह के साथ सैलफियां भी ली।1996 ऐटलांटा ओलम्पिक्स में परगट सिंह की कप्तानी में भारत की तरफ से खेलने वाले हरप्रीत सिंह मंडेर और संजीव कुमार भी मौके पर मौजूद थे। इस तिकडी ने आज हाकी के पुराने दिन याद किये।

स. परगट सिंह ने लायलपुर खालसा कालेज को हाकी ऐस्टोटरफ के लिए 5लाख रुपए और जी एस बौद्धी क्लब को 2लाख रुपए देने का भी ऐलान किया। उन्होंने संबोधन करते हुए कहा कि हाकी के महबूब कोच जी एस बौद्धी जी की याद में होती लीग में पुराने खिलाड़ियों को खेलते देख कर खुशी हुई।उन्होंने कहा कि राज्य में खेल समर्थकी माहौल सृजन करने के लिए पुराने खिलाड़ियों को इसी तरह खेल मैदान में आना पड़ेगा, क्योंकि खिलाड़ी युवाओं के आदर्श है, जिनको देख कर युवा खेल को शिद्दत के साथ अपनाएगे।

खेल मंत्री ने कहा कि खेल हमारे समाज का अटूट अंग है, यह सिर्फ़ बचपन या जवानी के दिनों में ही नहीं, बल्कि पूरा जीवन हमें इसके साथ जुड़े रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज हाकी फील्ड में स्टिक हाथ में पकड़ कर जो खुशी महसूस होती है, वह शब्दों में नहीं बया नहीं की जा सकती।

इस अवसर पर लायलपुर खालसा कालेज जालंधर के डा गुरपिन्दर सिंह सपरा ने कैबिनेट मंत्री परगट सिंह का विशेष कर धन्यवाद करते हुए कहा कि पंजाब की जवानी, खेल, शिक्षा और एन.आर.आईज़ सौभाग्यशाली है, जिसका नेतृत्व एक सुयोग्य और काबिल व्यक्ति के हाथ में है। इस अवसर पर लीग के मुख्य स्पांसर बलदेव सिंह कंग (प्रबल टी एम टी सरिया) ने विश्वास दिलाया कि आने वाले समय में भी इसी तरह हाकी के साथ जुड़े रहेंगे। क्लब के प्रधान दलजीत सिंह ने सभी मेहमानों और खिलाड़ियों का धन्यवाद किया।

चौथी बाबा जी एस बौद्धी वैटर्न हाकी लीग के फ़ाईनल में ओलम्पियन जगदेव सिंह क्लब जालंधर ने नैशनल हाकी क्लब कपूरथला को 2-0के साथ हरा कर टूर्नामैंट जीता। इस अवसर पर हाकी ओलम्पियन दविन्दर सिंह गर्चा, हाकी ओलम्पियन वरिन्दर सिंह, द्रोणाचार्य ऐवारडी ओलम्पियन राजिन्दर सिंह जूनियर, कुलदीप सिंह, गुरमीत सिंह मिता, सुरिन्दर

सिंघ भापा, हरिन्दर सिंह संघा, हाकी कोच बलजीत कौर, जगजीत सिंह, गुरमीत सिंह, सुखदर्शन कौर कंग, सतपाल सिंह मुनशी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.