मानव जीवन में ही परमात्मा की जानकारी संभव – ज्ञान सिंह

Hoshiarpur Punjab ब्रेकिंग न्यूज़

होशियारपुर, 6 दिसम्बर (न्यूज़ हंट)- संत निरंकारी मंडल की ब्रांच चण्डीगढ़ के मीडिया सहायक भाई राजिन्दर कुमार जी की माता श्रीमती कांता देवी जी जोकि पिछले दिनों ब्रह्मलीन हो गए थे। उनके जीवन से प्रेरणा लेने के लिए शाहबाद मारकंडा के नजदीक पड़ते उनके गाँव गोलपुरा में प्रेरणा दिवस गुरू चर्चा का आयोजन किया गया। जिसमें महात्मा ज्ञान सिंह मुखी अम्बाला विशेष तौर पर पहुंचे।

इस मौके उन्होंने कहा कि पूर्ण सत्गुरू की शरण में जा कर ब्रह्म ज्ञान की प्राप्ति के बाद जीवन और सोच दोनों बदल जाते हैं। सत्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज जी की शिक्षाओं के बारे चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि संत हमेशा भक्ति को पहल देते हुए अपने आप को सत्गुरू के वचनों मुताबिक ढाल कर जीवन जीते हैं और दुनिया के लिए प्रेरणा स्रोत बनते हैं। उन्होंने कहा कि मनुष्य जन्म सर्व उत्तम जन्म है जिस में परमात्मा की जानकारी संभव है। माता कांता देवी जो कि बहुमुल्य गुणों के धारणी थे, जिन्होंने अपना तमाम जीवन गुरू की शिक्षा मुताबिक व्यतीत किया और अपने समूह परिवार को भी गुरू चरणों के साथ जोड़ा जो कि एक बहुत बड़ी प्राप्ति है। उन्होंने कहा कि इस समय बच्चों को सही शिक्षा प्रदान करनी अच्छे गुणों के धारणी बनाना, सत्य के रास्ता पर चलाना बहुत कठिन है परन्तु कांता देवी ने गुरू की कृपा से अपने समूह परिवार को गुरू चरणों के साथ जोड़ा जो कि एक बहुत बड़ी प्राप्ति है। सत्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज के चरणों में यही अरदास है कि पूरा परिवार गुरू चरणों में तोड़ निभा जाये। उन्होंने कहा कि मनुष्य अच्छे गुणों के धारणी हो तो वह कई कार्य सवार सकता है। इस अवसर पर जोनल इंचार्ज शाहबाद मारकंडा सुरिन्दर पाल जी और चण्डीगढ़ से निरंकारी मिशन के श्रद्धालू और बड़ी संख्या में गाँव निवासी और रिश्तेदार इस प्रेरणा दिवस समागम में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.