पंजाब में तुरंत लूट कल्चर को खत्म करेगी आम आदमी पार्टी की सरकार – सत्येंद्र जैन

Jalandhar National Punjab ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर/कपूरथला, 12 दिसंबर (न्यूज़ हंट)- पंजाब में आम आदमी पार्टी(आप) की सरकार बनने पर हम तुरंत लूट संस्कृति को खत्म करेंगे और जनता के पैसे से जनता का विकास करेंगे। पिछली अकाली-भाजपा और कांग्रेस सरकार की नीति रही है, ‘जनता व व्यापारियों को लूटो और कुछ पैसे को अपने ऊपर खर्च करो।’ उपरोक्त बातें आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने व्यापारियों और कारोबारियों की एक सभा को संबोधित करते हुए कही।

जैन ने नकोदर में छोटे व मझोले व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार आने पर तुरंत भ्रष्टाचार और घूस की प्रथा को खत्म किया जाएगा और उसी पैसे को बचाकर विकास के कार्य किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के किसी भी ऑफिस में किसी भी काम के लिए एक रुपए भी घुस नहीं लगता। जो भी कर्मचारी या अधिकारी के घूस लेने की खबर मिलती है उसे तुरंत बर्खास्त किया जाता है। पंजाब में भी हम दिल्ली की तरह ही पारदर्शी और ईमानदार सरकार की स्थापना करेंगे।

अकाली और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि उनके नेताओं को केजरीवाल से डर लगता है। उन्हें हमेशा या डर सताते रहता है कि अगर पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बन गई तो उनका लूट का धंधा बंद हो जाएगा और उनके सारे काले फाइल खुल जाएंगे। पिछली भ्रष्ट सरकारों की वजह से पंजाब के राजस्व को काफी नुकसान पहुंचा और लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

व्यापारियों को आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार उन्हें पूरी सुरक्षा व सुविधा प्रदान करेगी। अफसरशाही और कमीशनखोरी को पूरी तरह खत्म किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम महिलाओं को जो ₹1000 देंगे उस पैसे से महिलाएं अपनी जरूरतों के सामान खरीदेगी, जिससे व्यापारियों को भी लाभ होगा और सरकार को भी ज्यादा टैक्स मिलेगा। इसके लिए हमारी सरकार न कोई नया टैक्स लगाएगी और न ही वर्तमान टैक्स में कोई बढ़ोतरी करेगी। आप नेता ने व्यापारियों कारोबारियों को 2022 में बनने जा रही आप की सरकार में भागीदार बनने का न्योता देते हुए कहा कि कांग्रेस-कैप्टन बादल व भाजपा को आप कई बार आजमा कर देख चुके हैं। अब एक मौका केजरीवाल के विकास मॉडल को दीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.