बाल अधिकारों की सुरक्षा के बारे में राष्ट्रीय कमिशन की टीम ने किया चिल्ड्रेन होम का दौरा

Jalandhar National Punjab ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 14 दिसंबर (न्यूज़ हंट)- बाल अधिकारों की सुरक्षा के बारे में राष्ट्रीय कमिशन की एक टीम की तरफ से आज स्थानीय गांधी वनिता आश्रम में बने निगरानी घर और चिल्ड्रेन होम का दौरा करके वहां रह रहे बच्चों को दी जा रही सुविधाओं का जायज़ा लिया और बच्चों के साथ बातचीत भी की गई।

टीम में शामिल सलाहकार दीप्ति बहल, सीनियर तकनीकी माहिर शैशटा के शाह और बाल अधिकार कमिशन पंजाब के मैंबर डा. दीपक ज्योति ने चिल्ड्रेन होम में बच्चों के साथ बातचीत करते उनसे, यदि कोई समस्या है, सम्बन्धित भी बातचीत की गई। टीम ने सुविधाओं की समीक्षा करते हुए रसोई घर, रिहायशी कमरे, बाथरूम आदि का भी जायज़ा लेने के साथ-साथ दवाएँ, शिक्षा सुविधाओं, मनोचिकित्सक की उपलब्धता, सुरक्षा इंतज़ाम और काउंसलर की सुविधा के बारे में भी विस्तार के साथ जानकारी हासिल की। टीम की तरफ से बच्चों को दिए जा रहे खाने की क्वालिटी भी देखी गई।

निगरानी घर और चिल्ड्रेन होम में दी जा रही सुविधाओं पर तसल्ली टीम ने ज़िला प्रशासन की तरफ से इन स्थानों पर किए इंतज़ाम की प्रशंसा की।

ज़िला प्रोगराम अधिकारी जी.एस. रंधावा टीम को बताया कि डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी के नेतृत्व में बच्चों की भलाई के लिए समय -समय पर ज़रुरी प्रयत्न किए जाते है और हर अपेक्षित सुविधा यकीनी बनाई गई है। उन्होंने बताया कि इन स्थानों पर 146 बच्चे रह रहे है, जिनको समय -समय पर अलग -अलग गतिविधियों में शामिल करके उनके पूरे विकास को यकीनी बनाया जा रहा है। ज़िला बाल सुरक्षा अधिकारी अजय भारतीय ने टीम को बताया कि गांधी वनिता आश्रम का सारा क्षेत्र सीसीटीवी की निगरानी में है और बच्चों की सुरक्षा के पुख़्ता प्रबंध है। लीगल प्रोबेशन अधिकारी सन्दीप कुमार ने बच्चों को ज़रूरत पड़ने पर दी जा रही मुफ़्त कानूनी सहायता के बारे में भी जानकारी दी। इस मौके सीपीओ हरनीत कौर, सुपरडैंट हरविन्दर कौर आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.