विधान सभा चुनाव दौरान पैसे और ताकत के प्रयोग पर सख़्त नज़र रखी जायेगी: चुनाव अब्ज़र्वर

जालंधर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 1 फरवरी (न्यूज़ हंट)- आज सभी 9विधान सभा हलकों के अब्ज़र्वरों ने जालंधर में स्वतंत्र, निष्पक्ष, निर्विघ्न और पारदर्शी चुनाव प्रक्रिया को यकीनी बनाने के लिए ज़िला प्रशासन की तरफ से गई चुनाव की तैयारियों का जायज़ा लिया। चुनाव अब्ज़र्वर, जिनमें जनरल अब्ज़र्वर महेश चंद्र शर्मा, मनोज कुमार, डा. सरोज कुमार, भुपिन्दर एस. चौधरी, खर्च अब्ज़र्वर प्रदीप कुमार मील, अयाज़ अहमद कोहली, सत्यापाल सिंह मीना और पुलिस अब्ज़र्वर विक्रम सिंह मान ,डा. एन कोलांची शामिल है, ने जालंधर पहुँचने के बाद आज सिविल और पुलिस प्रशासन के आधिकारियों के साथ चुनाव के प्रबंधों के बारे में विस्तारपूर्वक विचार -विमर्श किया।

डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी, पुलिस कमिशनर नौनेहाल सिंह और एस.एस.पी. सतीन्द्र सिंह ने चुनाव अब्ज़र्वरो को सिविल और पुलिस प्रशासन की तरफ से चुनाव को उचित ढंग के साथ पूरा करने के लिए किये जा रहे प्रयत्नों के बारे में जानकारी दी। चर्चा दौरान अब्ज़र्वरो ने आगामी चुनाव में पैसे के प्रयोग पर नज़र रखने के लिए फलाईंग सकुएड टीमों की और ज्यादा सक्रिय भूमिका पर ज़ोर दिया।उन्होंने कहा कि आदर्श चुनाव संहिता को प्रभावी ढंग के साथ लागू करने के लिए फलाईंग सकुएड टीमें (एफ.एस.टी.) के बढ़िया प्रयोग को यकीनी बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि एआरओज़ को अपने अधिकार क्षेत्र विशेषकर खर्च संवेदनशील या नाजुक स्थानों पर एफएसटी वाहनों की व्यक्तिगत तौर पर निगरानी को यकीनी बनाना चाहिए। डिप्टी कमिशनर ने बताया कि एफ.एस.टी. टीमें से तरफ से सभी विधान सभा हलकों में 24 घंटे काम किया जा रहा है और पूरे हलके का दौरा कर रही हैं। उन्होंने ए.आर.ओज़ को कहा कि एफ.एस.टीज़ की यातायात के लिए एक विस्थारित टूर प्रोगराम बनाया जाए, जिससे आज़ाद, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव को यकीनी बनाया जा सके।

अब्ज़र्वरों ने स्पष्ट कहा कि मतदान दौरान पैसे और ताकत के प्रयोग, विशेषकर नशे और शराब के इस्तेमाल पर सख़्त नज़र रखी जानी चाहिए। डिप्टी कमिशनर ने बताया कि प्रशासन की तरफ से सभी पोलिंग स्टेशनों पर माईक्रो अब्ज़र्वरों की तैनाती के इलावा सौ प्रतिशत वैबकास्टिंग की योजना बनाई जा रही है, जिससे पूरी चुनाव प्रक्रिया की निगरानी की जा सके। उन्होंने आगे बताया कि ऐसे मामलों के साथ निपटने के लिए पहले ही एक व्यापक व्यवस्था स्थापित की गई है, जिसमें 24X7 शिकायत सैल, सी -विजिल पर प्राप्त सूचना और तुरंत कार्यवाही, मीडिया सरटीफिकेशन और मोनिटरिंग सैल् आदि शामिल हैं।

कोविड -19 महामारी कारण पैदा हुए मौजूदा हालात के मद्देनज़र किये जा रहे प्रबंधों के बारे में बताते हुए डिप्टी कमिशनर ने बताया कि चुनाव वाले दिन कोविड सम्बन्धित उचित व्यवहार की पालना के लिए सभी पोलिंग स्टेशनों पर आशा वर्करों और नर्सिग स्टाफ की तैनाती की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि इस्तेमाल की जा चुकी कोविड किटों, मास्क, फेस -शीलड और अन्य बायो -मैडीकल अवशेष के उचित ढंग के साथ निपटारे के लिए इन स्थानों पर बायो -मैडीकल वेस्ट प्रबंधन योजना भी लागू की जा रही है।

इस दौरान पुलिस कमिशनर और एस.एस.पी ने चुनाव दौरान शांतमयी माहौल को यकीनी बनाने के लिए गड़बड़ी करने वालों विरुद्ध की गई कार्यवाही के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आदर्श चुनाव सहिंता लागू होने के बाद 1.87 लाख लीटर से अधिक लाहन पहले ही ज़ब्त और नष्ट की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि पुलिस टीम की तरफ से 136 के करीब भगौड़े अपराधियों को काबू गया है और आदतन अपराधियों की गतिविधियों पर भी नज़र रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले में कार्यवाही के लिए कोई ग़ैर -ज़मानती वारंट पैंडिंग नहीं है क्योंकि ऐसे सभी व्यक्ति पहले ही पुलिस फोर्स की तरफ से गिरफ़्तार किये जा चुके हैं। डिप्टी कमिशनर, पुलिस कमिशनर और एसएसपी ने निर्विघ्न और निष्पक्ष चुनाव के लिए अपनी वचनबद्धता को भी दोहराया।

इस अवसर पर दूसरो के इलावा अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (विकास) जसप्रीत सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (शहरी विकास) आशिका जैन, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (ज) अमरजीत बैंस, ज़ोनल लायसैंसिग अथारिटी लखवंत सिंह, सहायक कमिशनर (आबकारी) हनुमंत सिंह, रणजीत सिंह, चुनाव तहसीलदार सुखदेव सिंह, कानून्गो राकेश कुमार आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.