डिप्टी कमिशनर ने चुनाव आयोग को मतदान वाले दिन के लिए निगरान प्रणाली के बारे में दी जानकारी

Elections2022 जालंधर देश पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 18 फरवरी (न्यूज़ हंट)- रविवार को वोटिंग को उचित, स्वतंत्र और निष्पक्ष ढंग से पूरा करने के लिए सभी ज़रुरी प्रबंधों को यकीनी बनाते हुए डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी ने चुनाव आयोग को पोल डे मोनिटरिंग व्यवस्था के बारे में अवगत करवाया।

शुक्रवार शाम को मुख्य चुनाव अधिकारी डा.एस.करुना राजू की तरफ से की गई वीडियो कान्फ़्रेंस में पुलिस कमिशनर नौनेहाल सिंह, एस.एस.पी.जालंधर (देहाती) सतीन्द्र सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर (विकास) जसप्रीत सिंह और अन्य आधिकारियों के साथ भाग लेते हुए डिप्टी कमिशनर ने बताया कि प्रशासन की तरफ से सभी पोलिंग स्टेशनों पर ज़रुरी प्रबंधों और सुविधाओं के साथ मतदान के लिए पूरी तैयारी की जा चुकी है। डिप्टी कमिशनर ने बताया कि सभी हलकों में एक -एक वूमैन पोलिंग स्टेशन स्थापित किया गया है और सभी 1975 पोलिंग स्टेशनों पर पी.डब्लयू.डी. वोटरों के लिए ज़रूरी सभी सुविधाएं भी मुहैया करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि नवंबर और दिसंबर के महीने में 66601 ऐपिक बाँटने के इलावा 20307 जनवरी, 2022 महीने दौरान वोटरों को पहले ही दिए जा चुके हैं।

आर्दश चुनाव सहिंता को सख़्ती के साथ लागू करने के बारे में जानकारी देते हुए घनश्याम थोरी ने बताया कि हर हलके में 9 फलाईग सकुएऐड टीमों के साथ-साथ हर हलके में आबकारी विभाग की दो टीमें और हर हलके में 9 स्टैटिक सरवेलैंस टीमें काम कर रही है। उन्होंने बताया कि जिले में आदर्श चुनाव सहिंता और खर्च सम्बन्धित उल्लंघना के सम्बन्ध में 255 एफ.आई.आर. दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि 261 वलनरेबल लोकेशनों के साथ 488 पोलिंग स्टेशन नाजुक श्रेणी अधीन है।

डिप्टी कमिशनर ने पोलिंग स्टेशनों पर माईक्रो अबज़रवरों की तैनाती के साथ-साथ शनिवार को पोलिंग पार्टियों को रवाना करने के लिए होने वाली ट्रांसपोटेशन योजना के बारे में भी अवगत करवाया। उन्होंने यह भी बताया कि कोई भी शिकायत दर्ज करवाने के लिए टोल फ्री नंबर 1950 चौबीस घंटे काम कर रहा है। इसके इलावा ज़िला प्रशासन की तरफ से ज़िला प्रशासकीय कंपलैक्स में नोडल अधिकारियों की तैनाती के साथ एक कुइक रिस्पांस कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया है।

पुलिस कमिशनर नौनेहाल सिंह और एस.एस.पी. जालंधर सतीन्द्र सिंह ने सी.ई.ओ. को जानकार करवाया कि सीएपीएफ की 54 कंपनियों की तैनाती के साथ पुख़्ता सुरक्षा प्रबंध किये जा चुके है, जिनमें से 19 कमिशनरेट में और 35 एस.एस.पी. देहाती के अधिकार क्षेत्र में तैनात हैं। सभी पोलिंग स्टेशन सी.सी.टी.वी. की निगरानी में है जिससे 20 फरवरी, 2022 को शांतिपूर्वक और निर्विघ्न वोटिंग के संचालन को यकीनी बनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.