डिप्टी कमिशनर के निर्देशों पर ज़िला प्रशासन के आधिकारियों की तरफ से यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों के पारिवारिक सदस्यों के साथ मुलाकात

जालंधर देश पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 1 मार्च (न्यूज़ हंट)- ज़िला प्रशासन के आधिकारियों की तरफ से आज जंग प्रभावित यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों के पारिवारिक सदस्यों के साथ इस मुश्किल घड़ी में उनका मनोबल बढ़ाने के लिए मुलाकात की गई और उनके बच्चों को सुरक्षित घर वापस लाने के लिए अथारटी की तरफ से उठाए जा रहे कदमों से जानकार करवाया।

डिप्टी कमिशनर घनश्यान थोरी के निर्देशों पर उप मंडल मैजिस्टरेटस, तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों की तरफ से पूरा दिन अपने -अपने अधिकार क्षेत्र में रहते इन पीडित परिवारों के साथ मुलाकात की गई। जालंधर -1सब डिविज़न में 28 के करीब, जालंधर -2में 18, फ़िल्लौर में चार और नकोदर और शाहकोट सब डिविज़न में एक -एक परिवार हैं। आधिकारियों ने इन परिवारों की बात को ध्यान के साथ सुना और उनको यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों की सुरक्षित वापसी को यकीनी बनाने के लिए सम्बन्धित अथारटी की तरफ से उठाए जा रहे कदमों से अवतत करवाया। उन्होंने ज़िला प्रशासन की तरफ से हर संभव मदद का भरोसा भी दिलाया, जो कि पहले ही इन परिवारों और विदेश मंत्रालय (MEA) के बीच पुल का काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि यूक्रेन में फंसे जालंधर के विद्यार्थियों की सूची तैयार करके आगे वाली कार्यवाही के लिए राज्य सरकार को मुहैया करवाई गई है। आधिकारियों ने यूक्रेन में फंसे कुछ विद्यार्थियों के साथ भी बातचीत की और उनको मौजूदा हालात में अपना मनोबल बनाई रखने के लिए कहा।

डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी ने कहा कि राज्य सरकार इस नाजुक घड़ी में पीडित परिवारों के साथ डट कर खड़ी है। उन्होंने कहा कि इन परिवारों की तकलीफ़ की कल्पना भी नहीं की जा सकती। घनश्याम थोरी ने कहा कि ज़िला प्रशासन की तरफ से इस मुश्किल घड़ी में इन परिवारों की मदद में कोई कमी बाकी नहीं छोड़ी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.