कैबनिट मंत्री ने दिव्यांग बच्चों को समाज में विशेष जगह दिलाने की ज़रूरत पर दिया ज़ोर

देश पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़

जालंधर, 7 अप्रैल (न्यूज़ हंट)- पंजाब के सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास मंत्री डा. बलजीत कौर ने आज कहा कि दिव्यांग बच्चे हमारे समाज का अटूट अंग हैं, जिनको बनती हर सुविधा प्रदान करने के लिए पंजाब सरकार की तरफ से पहल के आधार पर काम किया जाएगा।

कैबिनेट मंत्री ने स्थानीय स्वामी दास ए.एस. सीनियर सकैंडरी स्कूल में विश्व स्वास्थ्य दिवस मौके स्पैशल ओलम्पिक्स भारत की तरफ से’आज़ादी का अमृत महोत्सव’ को समर्पित’ नैशनल हैल्थ फैस्ट फार दिव्यांगजन -वी केयर’ शीर्षक नीचे करवाए गए समागम में मुख्य मेहमान के तौर पर शिरकत करते दिव्यांग बच्चों को समाज में विशेष जगह दिलाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री, पंजाब भगवंत मान के नेतृत्व वाली राज्य सरकार दिव्यांगजनों की भलाई, उनको समाज में बराबरी के मौके दिलाने और पूर्ण भागीदारी को यकीनी बनाने के लिए वचनबद्ध है। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार की तरफ से दिव्यांगजनों की भलाई की तरफ पूरी ध्यान देते उनके सर्वपक्क्षीय विकास को यकीनी बनाया जाएगा।

समागम को संबोधन करते कैबिनेट मंत्री कहा कि विशेष ज़रूरतों वाले बच्चे किसी की अपेक्षा कम नहीं हैं। यदि इनको पूरा सहयोग और उनका मनोबल बढाया जाये तो यह किसी भी स्थान को हासिल करने की ताकत रखते है। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से ऐसे बच्चों को अलग -अलग सुविधाएं मुहैया करवाने में कोई कमी बाकी नहीं छोड़ी जाएगी और ज़मीनी स्तर तक इन सुविधाओं को पहुँचाना यकीनी बनाया जाएगा। उपरांत कैबिनेट मंत्री ने स्कूल में विशेष ज़रूरतों वाले बच्चों के दाँतों की जांच के लिए लगाए गए कैंप का दौरा किया और वहां मौजूद दिव्यांग बच्चों और उनके माता-पिता के साथ बातचीत भी की।

इससे पहले नदोकर से विधायका इन्द्रजीत कौर मान ने कैबिनेट मंत्री का स्कूल में पहुँचने पर स्वागत किया और संस्था को इस प्रयास के लिए मुबारकबाद भी दी। इस मौके जालंधर केंद्रीय से विधायक रमन‌ अरोड़ा, जालंधर पश्चिमी से विधायक शीतल अंगुराल, करतारपुर से विधायक बलकार सिंह, डिप्टी कमिशनर घनश्याम थोरी, सहायक कमिशनर (यू.टी.) ओजस्वी अलंकार, ऐस.डी.ऐम. बलबीर राज सिंह, ज़िला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी वरिन्दर कुमार, स्टेट महिला मोर्चा की प्रधान राजविन्दर कौर, अमरजीत सिंह आनंद आदि मौजूद थे।

इससे पहले कैबिनेट मंत्री डा. बलजीत कौर को स्थानीय सर्कट हाऊस पहुँचने पर गार्ड आफ आनर दिया गया।

उपरांत कैबिनेट मंत्री ने स्थानीय गांधी वनिता आश्रम में करवाए गए एक सादे परन्तु प्रभावशाली समागम को संबोधन करते कहा कि यहाँ रह रही लड़कियों को उच्च शिक्षा प्रदान करने के लिए संजीदा प्रयास किए जाएंगे, जिससे वह देश के सामाजिक और आर्थिक विकास में योगदान डालने के समर्थ बन सकें। महिला सशक्तीकरण के लिए समाज में लड़कियों /महिलाओं को बराबर के अधिकार प्रदान करने की ज़रूरत पर ज़ोर देते कहा कि इसकी शुरुआत घर से होनी चाहिए और माता-पिता को अपनी, बेटियों को पुत्रों के बराबर मौके देने चाहिए।

आश्रम में लड़कियों को प्रदान की जा रही सुविधाओं की प्रशंसा करते उन लड़कियाँ को किताबें पढ़ने का न्योता दिया। उन्होंने कहा कि किताबें मानव की सबसे बढ़िया दोस्त है और उत्तम मनुष्य सृजन करने में अहम भूमिका निभाते हैं। इस मौके आश्रम की बच्चियाँ की तरफ से संस्कृतिक समागम भी पेश किया गया और ज़िला प्रोगराम अधिकारी जी.एस. रंधावा ने कैबिनेट मंत्री का स्वागत करते लड़कियों के लिए चिल्ड्रेन होम, अबज़रवेशन होम सहित आश्रम में प्रदान की जा रही सुविधाओं के बारे विस्तार के साथ जानकारी दी। इस उपरांत कैबिनेट मंत्री ने आश्रम में रह रही लड़कियों की तरफ से तैयार किया समान भी देखा।

इसके बाद कैबिनेट मंत्री ने परिवार, समाज, काम वाली जगह, प्राईवेट या पब्लिक स्थान पर हिंसा से पीडित औरतों की मदद के लिए सिविल अस्पताल जालंधर में चल रहे सखी -वन स्टाप सैंटर दौरा किया। इस दौरान उन्होंने सैंटर की प्रशासक सन्दीप कौर से इस तरह की हिंसा पीडित औरतें को प्रदान की जाती सहायता के बारे जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार पीडित औरतों के अधिकारों की चौकीदारी को यकीनी बनाने और उपयुक्त सहायता प्रदान करके उनको न्याय हासिल करने के योग्य बनाने के लिए वचनबद्ध है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.