15.5 C
Jalandhar
Tuesday, March 5, 2024

अध्ययन में बड़ा खुलासा- सैनिटरी नैपकिन से हो सकता है कैंसर; जाने कैसे करें सही पैड का चुनाव

क्या आप भी सैनिटरी पैड्स को अब तक बिना जांच-पड़ताल के लिए खरीदती आई हैं तो अब आपको सावधाएं होने की जरूरत है। एक नई स्टडी से खुलासा हुआ है कि भारत में बनने वाले नामी-गिरामी कंपनियों के सैनिटरी नैपकिन कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का कारण बन सकते हैं। अध्ययन में सामने आया है कि कई कंपनियों के सैनिटरी नैपकिन को बनाने में खतरनाक केमिकल इस्तेमाल किए जा जाते हैं जो कैंसर देने के साथ महिलाओं को बांझ भी बना सकते हैं। इसके अलावा ये केमिकल डायबिटीज और दिल की बीमारी के लिए भी जिम्मेदार होते हैं।
दिल्ली स्थित टॉक्सिक्स लिंक नाम के एनजीओ की ओर से की गई यह स्टडी इंटरनेशनल पोल्यूटेंट एलिमिनेशन नेटवर्क के टेस्ट का एक हिस्सा है जिसमें भारत में सैनिटरी नैपकिन बेचने वाले 10 ब्रांड्स के प्रॉडक्ट्स को शामिल किया गया था। स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं को सभी सैंपलों में थैलेट (phthalates) और वोलेटाइल ऑर्गेनिक कंपाउंड (VOCs) के तत्व मिले। चिंता की बात है कि यह दोनों दूषित पदार्थ कैंसर सेल्स बनाने में सक्षम होते हैं। ये रिसर्च ‘मैन्स्ट्रुअल वेस्ट 2022’ रिपोर्ट में प्रकाशित की गई है।
एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 15 से 24 साल की 64.4 फीसदी महिलाएं सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं। पिछले कुछ सालों में सैनिटरी पैड्स पर जागरूकता बढ़ने की वजह से इनका उपयोग बढ़ा है।
सही सैनिटरी पैड का चुनाव कैसे करें
आज के समय में कपड़े, बैग्स, जूते, घर का कोई सामान और यहां तक कि ग्रॉसरी खरीदने से पहले भी हम इंटरनेट पर रिसर्च जरूर करते हैं लेकिन जब सैनिटरी नैपकिन खरीदने की बात आती है तो हममें ज्यादातर लोग ब्रांड की लोकप्रियता के आधार पर या फिर कई बार बिना सोचे-समझे ही उसे खरीद लेते हैं। क्या आपके मन में एक बार भी ये सवाल आता है कि आप जो सैनिटरी पैड खरीद रही हैं वो आपके स्वास्थ्य के लिए सही है। यहां हम आपको सही सैनिटरी पैड का चुनाव करने के तरीके बता रहे हैं जिनको ध्यान में रखकर ही आप अगली बार इसकी खरीददारी करें।
ऑर्गेनिक सैनिटरी पैड्स का चुनाव करें
ये रिसर्च बताती है कि भारत में बनने वाले बड़ी-बड़ी कंपनियों के सैनिटरी पैड्स में भी खतरनाक केमिकल होते हैं। इसलिए महिलाओं को केमिलकल फ्री ऑर्गेनिक सैनिटरी पैड्स ही खरीदने चाहिए। आजकल बाजार में कई कंपनियों के ऑर्गेनिक सैनिटरी पैड्स मिलते हैं जो बाइओडिग्रेड्डबल होने की वजह से पर्यावरण के लिहाज से भी अच्छे हैं। आप चाहें तो कॉटन के सैनिटरी पैड्स का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। कभी भी पैड्स को ऊपर का पैकेट देखकर ना खरीदें बल्कि उसमें दी गई जानकारी को पढ़कर सही पैड का चुनाव करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles