21.1 C
Jalandhar
Friday, March 1, 2024

चीफ जस्टिस ने होशियारपुर के नए अत्याधुनिक जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर का उद्घाटन किया

माननीय पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश श्री रवि शंकर झा ने आज होशियारपुर में नवनिर्मित शानदार बहुमंजिला जिला और सत्र न्यायालय परिसर का उद्घाटन सत्र डिवीजन होशियारपुर के प्रशासनिक न्यायाधीश जस्टिस अरुण पल्ली की उपस्थिति में किया।इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश होशियारपुर दिलबाग सिंह जौहल, डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल, एस एस पी सरताज सिंह चहल, बार कौंसिल अध्यक्ष आर.पी. धीर भी विशेष रूप से उपस्थित थे।
इस अवसर पर आयोजित एक प्रभावशाली कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य न्यायाधीश श्री रवि शंकर झा ने कहा कि होशियारपुर के इस आलीशान जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर से जहां लोगों को न्याय दिलाने का काम तेजी से होगा वहीं लम्बित मामलों का त्वरित निराकरण होगा और न्यायिक अधिकारी नई ऊर्जा के साथ काम करेंगे।
उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से ज्यादा जिला अदालतों का महत्व है। उन्होंने कहा कि होशियारपुर में बना यह शानदार जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर न केवल सरकार के लिए गर्व की बात है, बल्कि इससे जिला प्रशासन और होशियारपुर के लोगों का सम्मान भी बढ़ा है।

सेशन डिवीजन होशियारपुर के प्रशासनिक जज जस्टिस अरुण पल्ली ने होशियारपुर के निवासियों को इस सौगात पर बधाई देते हुए कहा कि यह कॉम्प्लेक्स पंजाब में अपनी तरह का पहला न्यायिक परिसर है जो अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है। उन्होंने इस परिसर के निर्माण में योगदान देने वालों की जमकर सराहना की और कहा कि इससे होशियारपुर का लंबा सपना साकार हो गया है। इस बीच, मुख्य न्यायाधीश श्री रविशंकर झा और न्यायमूर्ति अरुण पल्ली के साथ अन्य न्यायिक अधिकारियों ने भी विभिन्न अदालत कक्षों और परिसर में स्थित पूरे भवन का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने कोर्ट परिसर में पौधारोपण भी किया।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश दिलबाग सिंह जौहल ने मुख्य न्यायाधीश श्री रविशंकर झा एवं न्यायमूर्ति अरुण पल्ली का स्वागत करते हुए कहा कि 60.28 करोड़ रुपये की लागत से 14 एकड़ 10 मरले क्षेत्र में निर्मित 6 लिफ्ट वाले इस पांच मंजिला न्यायालय परिसर का निर्माण कार्य 2018 में शुरू किया गया था।
उन्होंने कहा कि इस परिसर का कवर्ड एरिया 389,721 वर्ग फुट है। उन्होंने कहा कि इसमें 17 कोर्ट रूम, एक बच्चों का कोर्ट रूम और एक एडीआर सेंटर, न्यायिक सेवा केंद्र और अधिवक्ताओं के लिए बार रूम और लाइब्रेरी की व्यवस्था है। उन्होंने कहा कि बेसमेंट पार्किंग के अलावा 1,65,000 वर्ग फुट क्षेत्र में ओपन पार्किंग की भी व्यवस्था की गई है।
इसी तरह यहां पोस्ट ऑफिस, बैंक, एटीएम, कैंटीन और क्रेच की भी सुविधा है। इसके अलावा यहां सीसीटीवी कैमरे, डाटा नेटवर्किंग, आंतरिक इंटरकॉम सेवाएं और कई अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं, ताकि यहां न्याय मांगने आने वाले लोगों को कोई परेशानी न हो।
निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए यहां 200 केवीए/160 किलोवाट क्षमता के दो जनरेटर सेट की भी व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि परिसर में वकीलों के लिए आरामदायक और अच्छा माहौल मुहैया कराया गया है। इसी तरह यहां पौधे लगाने के लिए उपयुक्त जगह की भी व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि जजों के लिए भी यहां 9 रिहायशी मकान और 9 फ्लैट निर्माणाधीन हैं। इस अवसर पर विभिन्न न्यायाधीश, न्यायिक अधिकारी, बार कौंसिल के सदस्य एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles