24.3 C
Jalandhar
Friday, March 1, 2024

डा. बलजीत कौर ने पंजाब के पहले वर्किंग वुमेन होस्टल का नींव पत्थर रखा

2. 17 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होस्टल में 100 महिलाओं के रहने के प्रबंध-बच्चों की देखभाल के लिए क्रैच बनेंगे

राज्य के विभिन्न शहरों में इस प्रकार के होस्टल खोलने की योजना

जालंधर, 11 जून

पंजाब के महिला एवं बाल विकास विभाग और सामाजिक सुरक्षा मंत्री डा. बलजीत कौर ने कामकाजी महिलाओं को सुरक्षित और सुविधाजनक आवास उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से जालंधर के गांधी वनिता आश्रम में अपनी तरह के पहले होस्टल का नींव पत्थर रखा।

इस होस्टल पर 2.17 करोड़ रुपये की राशि खर्च होगी, जिसमें 100 महिलाओं के रहने की व्यवस्था के साथ-साथ छोटे बच्चों की देखभाल के लिए क्रैच का प्रबंध भी होगा।

आश्रम में नींव पत्थर रखने के अवसर पर डा. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए कई योजनाएं लागू की जा रही है, जिनमें कामकाजी महिलाओं के लिए होस्टल की भी योजना एक है। इसी योजना अधीन पंजाब सरकार अलग-अलग शहरों में वर्किंग वुमेन होस्टल बनाने की योजना बना रही है, जिसकी शुरुआत आज जालंधर से की गई है।

इन होस्टलों में जहां 100 कामकाजी महिलाओं के ठहरने का प्रबंध होगा, वहीं होस्टल में क्रैच भी खोले जाएंगे, ताकि महिलाएं अपने छोटे बच्चों को क्रैच में छोड़ कर बिना चिंता अपने काम पर जा सकें।

कैबिनेट मंत्री ने इस योजना को महिला सशक्तिकरण की दिशा में बड़ा कदम बताया।उन्होंने कहा कि यह योजना जरूरतमंद महिलाओं में आत्म-सम्मान की भावना पैदा करने के साथ-साथ सुरक्षित माहौल देने में मदद करेगी।

होस्टल की सुविधा कामकाजी महिलाओं, जो अकेली, विधवा, तलाकशुदा, विवाहित आदि ले सकती है, बशर्ते उनके पति या नजदीकी परिवार उस शहर/क्षेत्र में न रहते हो। इसके इलावा समाज के पिछड़े वर्ग की महिलाओं और विकलांगों को विशेष पहल दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि कई महिलाएं दूसरे शहरों में घर से बाहर काम नहीं कर पाती है क्योंकि उन्हें सुरक्षित और सुविधाजनक आवास नहीं मिलता है, जो महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण में बाधक है।

उन्होंने कहा कि अगर कामकाजी महिलाओं को इस प्रकार के होस्टलों की सुविधा मिल जाए तो वे घर से बाहर बड़े शहरों में काम करने या नौकरी पाने से नहीं हिचकेंगी, जिससे महिलाओं के विकास के साथ-साथ पंजाब का भी विकास होगा।

इस अवसर पर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (ज) मेजर अमित महाजन, विभाग की डिप्टी डायरैक्टर रूपिंदर कौर, एसडीएम बलबीर राज सिंह, उच्च अधिकारी अमरजीत सिंह भुल्लर,जिला प्रोग्राम अधिकारी मनजिंदर सिंह सहित अन्य उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles