35.1 C
Jalandhar
Wednesday, April 17, 2024

पंजाब की शराब व आबकारी नीति की भी करवाई जाए सीबीआई जांच-भाजपा

भारतीय जनता पार्टी पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा द्वारा आम आदमी पार्टी पंजाब की भगवंत मान सरकार की दिल्ली की केजरीवाल सरकार की तर्ज पर चलाई जा रही शराब नीति की सीबीआई जाँच करवाए की मांग को लेकर पंजाब में डिप्टी कमिश्नर कार्यालयों के समक्ष धरने-प्रदर्शन कर जांच की मांग करते हुए पंजाब सरकार के विरुद्ध जम कर नारेबाजी की गई। इसी कड़ी में भाजपा होशियारपुर अर्बन जिलाध्यक्ष निपुण शर्मा और देहाती जिलाध्यक्ष अजय कौशल सेठू के नेतृत्व में सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने डीसी दफ़्तर के   बाहर इक्कठे होकर भगवंत मान सरकार की शराब नीति की जांच की मांग को लेकर प्रदर्शन किया एसडीएम होशियारपुर को अपना मांगपत्र सौंपा।


भाजपा जिलाध्यक्ष निपुण शर्मा और अजय कौशल सेठू ने संयुक्त तौर  ने इस अवसर पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार सहित पंजाब की भगवंत मान सरकार में भी भ्रष्टचार कूट-कूट कर भरा है। जैसे दिल्ली की केजरीवाल सरकार के कैबिनेट मंत्री भ्रष्टाचार मामलों में सलाखों के पीछे जा चुके हैं, वैसा ही भगवंत मान सरकार के भी कैबिनेट मंत्री व विधायक सलाखों के पीछे पहुचे हुए हैं और अभी ना जाने और किन-किन की बारी है? केजरीवाल सरकार के तो उप-मुख्यमंत्री खुद भ्रष्टाचार की सभी सीमाओं को लांघते हुए पाँच महीनों की सीबीआई जांच में पुख्ता सबूतों के आधार पर आरोपी साबित हुए हैं और आज जेल की सलाखों के पीछे पहुँच गए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के कट्टर इमानदार होने का झूठा मुखौटा अब उतर चुका है और जनता अब इन्हें सबक सिखाने की तयारी कर चुकी है।
निपुण शर्मा ने कहा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की भगवंत मान सरकार जो नई एक्साइज पॉलिसी लेकर आई है। यह आबकारी नीति दिल्ली की आबकारी नीति की तर्ज पर बनाई गई है। दिल्ली की आबकारी नीति में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है, जिसके कारण दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सहित कई नेता और अधिकारी पाँच महीने की सीबीआई जांच के बाद आज जेल में हैं। यहां तक कि ‘आप’ सुप्रीमो और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम इस चार्जशीट में है।


 अजय कौशल सेठू ने कहा कि भगवंत मान द्वारा अरविंद केजरीवाल के इशारे पर पंजाब में अपने चहेते शराब कारोबारियों को फायदा पहुंचाने के लिए नई आबकारी नीति लाई गई है। इस नीति से पंजाब में शराब का धंधा दो परिवारों के हाथ में चला जाएगा। पंजाब के तमाम कारोबारी भी इसका डटकर विरोध कर रहे हैं। पंजाब की इस नई आबकारी नीति में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है। इस मुद्दे पर ‘आप’ सरकार और पुलिस से कोई कार्रवाई की उम्मीद करना बेमानी है। भारतीय जनता पार्टी ने मांग की कि पंजाब की आबकारी नीति की तत्काल सीबीआई जांच कराइ जाए ताकि पंजाब के संसाधनों की लूट को रोका जा सके और इस नीति के तहत फायदा लेने तथा फायदा देने वाले भ्रष्टाचारियों के चेहरों से झूठ ओर कट्टर ईमानदारी का मुखौटा उतर सके।


इस अवसर पर संजीव मनहास,डॉ बिन्दुसार शुक्ला, जतिंदर सैनी,दिलबाग राय,अश्वनी ओहरी,भारत भूषण वर्मा,एडवोकेट डीएस बागी,नरिंदर कौर,योगेश सपरा,नीरज जैन,चरनजीत सिंह,जसविंदर सिंह राणा,अवतार सिंह डांडिया,हरदीप सिंह लौंगिया,अमरजीत लाडी,अजय चोपड़ा,पल्लवी शर्मा,ओंकार नाथ शर्मा,जोगेश शर्मा,कमल वर्मा, राजन शर्मा,विपुल वालिया,धीरज ऐरी,संतोष वशिष्ठ,गुरमिंदर कौर,हेमलता विग,सुनीता,कर्ण मेहता,परविंदर बजाज,जसविंदर सैनी,क़ुरबान,कमल सैनी,आदि उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles