पंजाब पुलिस द्वारा सरहद पार से नशा तस्करी के एक और नेटवर्क का पर्दाफाश; 10 किलो हेरोइन, 2 पिस्तौलों समेत दो काबू

0
143

न्यूज हंट. चंडीगढ़/गुरदासपुर : मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant mann) के दिशा-निर्देशों पर नशों के विरुद्ध शुरु की गई जंग के अंतर्गत सरहद पार से नशा तस्करी (Drug Smuggling) के एक और नैटवर्क का पर्दाफाश करके बड़ी सफलता हासिल करते हुए पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने दो नशा तस्करों को 10 किलो हेरोइन (10 पैकेट) समेत गिरफ़्तार किया है। यह जानकारी आज यहाँ डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DGP Punjab) पंजाब गौरव यादव ने दी।
गिरफ़्तार किये गए व्यक्तियों की पहचान हर्षदीप सिंह निवासी गाँव थम्मण ज़िला गुरदासपुर और श्रवण सिंह उर्फ साबा निवासी शाहूर कलाँ ज़िला गुरदासपुर के तौर पर हुई है। पुलिस ने इनके कब्ज़े से .30 बोर के दो विदेशी पिस्तौल, चार मैगज़ीन और 180 जिंदा कारतूस भी बरामद किये हैं।
यह सफलता पंजाब पुलिस द्वारा 10 किलो हेरोइन और एक आधुनिक ड्रोन समेत दो मुख्य दोषियों की गिरफ़्तारी के साथ सरहद पार से नशा तस्करी के बड़े गिरोह का पर्दाफाश किये जाने के तीन दिन बाद मिली है।
डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि गुप्त जानकारी के आधार पर काउन्टर इंटेलिजेंस (सी.आई) पठानकोट की पुलिस टीमों ने गुरदासपुर के गाँव थम्मण के नज़दीक एक विशेष अभियान चलाया और दोनों नशा तस्करों को उस समय सफलतापूर्वक काबू कर लिया, जब वह बॉर्डर आऊटपोस्ट (बी.ओ.पी.) चौंतरा (दोरांगला, गुरदासपुर) में पाकिस्तान आधारित तस्करों द्वारा कँटीली तार के रास्ते से पाईप की मदद से भेजी गई नशे और हथियारों की खेप बरामद करने के बाद पैदल अपने घर जा रहे थे।
शुरूआती जांच से पता चला है कि दोनों नशा तस्कर रहमत मीयां के तौर पर जाने जाते पाक आधारित तस्कर के संपर्क में थे।
सी.आई. पठानकोट के ए.आई.जी. अमरजीत सिंह बाजवा ने बताया कि दोषी श्रवण एक कुख्यात नशा तस्कर है जो 7 साल की कैद काटने के बाद 2018 में ज़मानत पर बाहर आया था। उन्होंने बताया कि इस सम्बन्धी आगे की जांच जारी है।
इस सम्बन्धी थाना एस.एस.ओ.सी. अमृतसर में एन.डी.पी.एस. एक्ट की धारा 21/61/85 और आर्म्स एक्ट की धारा 25/54/59 अधीन एफ.आई.आर. नं 38 दिनांक 28.12.2022 के अंतर्गत मुकद्मा दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here