38.7 C
Jalandhar
Tuesday, June 18, 2024

पंजाब में धान/चावल की जाली बिलिंग रोकने संबंधी मुहिम में तेज़ी, 2 ट्रक ज़ब्त

न्यूज हंट. चंडीगढ़ : राज्य सरकार की तरफ से ख़रीफ़ सीजन 2022-23 के दौरान राज्य में बाहर के राज्यों से सस्ते भाव पर खरीदा धान/चावल पंजाब राज्य में लाकर बेचने और धान/चावल की जाली बिलिंग को रोकने के लिए मुहिम में तेज़ी लाते हुए आज 2 ट्रक ज़ब्त करते हुए फ़ौजदारी कार्यवाही की गई है, जिससे धान/चावल की रीसायकलिंग को रोका जा सके।

इस सिलसिले के अंतर्गत सुखजीवन सिंह, सचिव मार्केट कमेटी संगत द्वारा मैसः एस. के ब्रदरज़ ट्रेडिंग कंपनी, अकबरपुर उत्तर प्रदेश, मौजूदा पता सौरव इंडस्ट्रीज, दुकान नं 102, नयी अनाज मंडी, हांसी, हिसार, हरियाणा की तरफ से बी. सी. एल इंडस्ट्रीज संगत कलाँ ज़िला बठिंडा को भेजे चावलों के 2 ट्रकों, जिनके पास अपेक्षित कागज़ात नहीं थे, को अंतर-राज्य़ीय बैरियर से मौके पर पकड़ते हुये ए. एस. आई, संगत के हवाले किया गया और उसके विरुद्ध आई पी सी की धारा 420, 120 बी थाना संगत ज़िला बठिंडा में एफ आई आर नं. 0166 तारीख़ 01-11-2022 दर्ज करवाई गई।

यह जानकारी देते हुए राज्य के ख़ाद्य, सिवल सप्लाई और उपभोक्ता मामले के मंत्री लाल चंद कटारूचक्क ने बताया कि इन मामलों में दोषियों को बिल्कुल नहीं बक्शा जायेगा और उनकी गिरफ़्तारी यकीनी बनाने के साथ-साथ उनसे बरामद चावल ज़ब्त कर लिया जायेगा।

उन्होंने यह भी बताया कि श्री नरेश अरोड़ा अतिरिक्त डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस, पंजाब की इस मुहिम का नेतृत्व करने और विभाग के साथ तालमेल करने के लिए ड्यूटी लगाई गई है।

विभाग के प्रमुख सचिव राहुल भंडारी ने और ज्यादा जानकारी देते हुए बताया कि विभाग पूरी चौकसी के साथ धान की जाली बिलिंग/चावल की रीसायकलिंग जैसे ग़ैर- कानूनी कामों की रोकथाम के लिए डटा हुआ है।

विभाग की तरफ से अनाधिकृत तौर पर दूसरे राज्यों से पंजाब राज्य में आने वाले धान को रोकने के लिए आबकारी और कराधान विभाग पंजाब के ज़िला स्तर पर मोबायल विंग राज्य की मंडियों में आ रहे/जाने वाले धान की निगरानी रखने के लिए एक्टिवेट किये गए हैं और कमिश्नर कराधान, पंजाब को प्राईवेट खरीद कर रहे मिलरों/ प्राइवेट व्यापारियों की जी. एस. टी रिटरनों पर निगरानी रखने के लिए कहा गया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,800SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles