रिट्रीट सेरेमनी में 1 जनवरी से मिलेगी ऑनलाइन एंट्री, अब यहां करें पंजीकरण, पहले कटती थी पर्ची

0
158

न्यूज हंट. अमृतसर : अटारी-वाघा सीमा पर रोज शाम को होने वाली BSF की ‘बीटिंग द रिट्रीट’ (Beating The Retreat) सेरेमनी में वीआईपी एंट्री (VIP Entry) के लिए जल्द सैलानियों को ऑनलाइन एंट्री (Online Entry) मिलेगी। बीएसएफ के डीजी (DG BSF) पंकज कुमार सिंह ने दो दिन पहले ऑनलाइन साइट attari.bsf.gov.in को लांच कर दिया है। हालांकि अभी इसकी शुरुआत नहीं हुई लेकिन एक जनवरी 2023 से लोग इस साइट पर रिट्रीट सेरेमनी देखने के लिए खुद को रजिस्टर्ड करवा वीआईपी एंट्री हासिल कर सकेंगे।
भारत और पाकिस्तान सरकार की सहमति से ज्वाइंट चेक पोस्ट (जेसीपी) अटारी पर 1959 से बीटिंग द रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन किया जा रहा है। सबसे पहले भारतीय सेना की कुमाऊं रेजिमेंट ने 11 अक्तूबर 1947 को यहां परेड की थी। 1950 के बीच में जेसीपी को पंजाब पुलिस ने टेकओवर कर लिया और आज की तरह होने वाली बीटिंग द रिट्रीट सेरेमनी की शुरुआत 1952 में हुई।
वैसे तो इस सेरेमनी को कोई भी देखने जा सकता है मगर वीआईपी गैलरी में सीट हासिल करने के लिए सैलानियों को अपने नाम व मेहमानों की संख्या के साथ अपने वाहन को भी रजिस्टर्ड करवाना पड़ता है। शुरू में तो वीआईपी एंट्री बीएसएफ सेक्टर हेडक्वार्टर खासा के गेट नंबर तीन पर पहुंचने के बाद एक पर्ची के रूप में नंबर मिलता था।
कुछ साल पहले बीएसएफ ने पर्ची देना बंद कर दिया और सैलानी को अपना नाम और वाहन नंबर बता कर बीएसएफ सेक्टर हेडक्वार्टर के गेट नंबर तीन से एक नंबर दिया जाने लगा। डीजी सिंह ने कहा कि एक जनवरी के बाद से लोग इस वेबसाइट पर जाकर वीआईपी बुकिंग करवा सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here