31.6 C
Jalandhar
Wednesday, April 17, 2024

हर्षोल्लास के साथ शुरु हुआ ‘विरसा होशियारपुर दा’ मेला

होशियारपुर की संस्कृति को दर्शाता ‘विरसा होशियारपुर दा’ मेला आज होशियारपुर के लाजवंती मल्टीपर्पज आउटडोर स्टेडियम में हर्षोल्लास के साथ शुरु  हो गया है। डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल की मौजूदगी मेले की तैयारियों में लगी जिला प्रशासन की टीम की ओर से इस मेले की शुरुआत की गई। इस मौके पर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(सामान्य) दलजीत कौर, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(विकास) दरबारा सिंह, एस.डी.एम दसूहा ओजस्वी अलंकार, एस.डी.एम. होशियारपुर प्रीतइंद सिंह बैंस, सहायक कमिश्नर(सामान्य) व्योम भारद्वाज भी विशेष तौर पर मौजूद थे।


डिप्टी कमिश्नर ने इस दौरान मेले में विशेष तौर पर पहुंचे मेयर सुरिंदर कुमार, चेयरमैन नगर सुधार ट्रस्ट हरमीत सिंह औलख, राजेश्वर दयाल बब्बी, सतवंत सिंह सियान का स्वागत करते हुए कहा कि ‘विरसा होशियारपुर’ मेला हैंडीक्राफ्ट जैसी लुप्त हो रही कलाओं को उजागर कर रहा है, इस लिए अधिक से अधिक लोगों को इस मेले में शिरकत कर इन मेहनतकश शिल्पकारों का हौंसला बढ़ाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से शिल्पकारों व बुनकरों के विकास के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने जिले भर से आए दस्तकारों, शिल्पकारों व सैल्फ हैल्प ग्रुपों के स्टालों का दौरा कर उनकी हौंसला आफजाई की।


डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि जिला वासियों तक अपनी कला पहुंचाने के लिए जहां अलग-अलग शिल्पकार मेले में पहुंचे हैं वहीं दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए कलाकारों व विद्यार्थियों की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेले में लोगों की सुविधा के लिए विशेष तौर पर फूड कोर्ट बनाया गया है जहां उन्हें होशियारपुर का हर मशहूर व्यंजन वाजिब मूल्य पर उपलब्ध करवाया गया है। उन्होंने अपील की कि अधिक से अधिक लोगों को अपने परिवारोंम के साथ ‘विरसा होशियारपुर दा’ मेले में शिरकत करनी चाहिए, क्योंकि यहां आकर उन्हें अपने जिले की अमीर संस्कृति नजदीक से देखने को मिलेगी। उन्होंने कहा कि स्वंय सहायता समूहों की ओर से भी विशेष तौर पर स्टाल लगा कर संदेश दिया जा रहा है कि नौजवानों को अपने पैरों पर खड़े होने का यह एक अच्छा प्लेटफार्म है।


कोमल मित्तल ने बताया कि ‘विरसा होशियारपुर दा’ मेला 07 मार्च तक रोजाना सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक चलेगा। उन्होंने बताया कि 05 मार्च को सांय 7 बजे प्रसिद्ध पंजाबी गायब सतिंदर सरताज दर्शकों का मनोरंजन करेंगे। उन्होंने जिला वासियों से अपील करते हुए कहा कि वे खुद भी मेले में आएं और अन्य लोगों को भी यहां आने के लिए प्रेरित करें ताकि यहां आए कारीगरों का हौंसला बढ़ाया जा सके। मेले के पहले दिन सरकारी कन्या सीनियर सेकेंडरी स्कूल रेलवे मंडी की छात्राओं की ओर से गिद्दा, मिट्टी दा बावा, ढोल की परफारमेंस दी गई वहीं डी.ए.वी कालेज के विद्यार्थियों ने भंगड़ा डाल दर्शकों में नई ऊर्जा भर दी। इसके अलावा नार्थ जोन कल्चरल सैंटर की टीम ने मयूर डांस कर सभी का मन मोह लिया वहीं ढाडी जत्थे ने विरसें से संबंधित वारों का गायन कर दर्शकों में जोश भर दिया। इस मौके पर अलग-अलग विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles