होशियारपुर को सबसे साक्षर जिला होने का गौरव बुजुर्गों की महान सोच का नतीजा: स्पीकर कुलतार सिंह संधवां

0
79

होशियारपुर/माहिलपुर/गढ़शंकर,फरवरी 2023: होशियारपुर को सबसे शिक्षित लोगों का जिला होने का गौरव प्राप्त है और यह सम्मान 100 साल पहले यहां के बुजुर्गों की महान सोच का परिणाम है। यह बात पंजाब विधान सभा के स्पीकर कुलतार सिंह संधवां ने आज संत अतर सिंह खालसा सीनियर सेकेंडरी स्कूल पालदी के 100वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कही।डिप्टी स्पीकर जय कृष्ण सिंह रोड़ी व अन्य हस्तियों की मौजूदगी में आयोजित इस शताब्दी समारोह के अवसर पर उन्होंने कहा कि गांव पालदी के बुजुर्गों द्वारा 100 साल पहले स्थापित शिक्षण संस्थानों के कारण आज होशियारपुर जिला शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी जिला है।

                उन्होंने कहा कि इस स्कूल के विद्यार्थियों ने विश्व स्तर पर भारत का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि यहां के एन आर आई परिवार विदेशों में तरक्की की बुलंदियों को छूने बावजूद आज भी अपनी माटी से जुड़े हुए हैं, जो हमारे लिए बड़े गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि यहां से गए एन आर आई भाइयों ने सिंगापुर और कनाडा में भी पालदी गांव बसाए हैं। उन्होंने स्कूल को 10 लाख रुपये देने की घोषणा की और कहा कि ऐसी संस्थाओं को आर्थिक रूप से नुकसान नहीं होने दिया जाएगा।

                इस अवसर पर पंजाब विधानसभा के डिप्टी स्पीकर जय कृष्ण सिंह रोड़ी ने कहा कि गांव पालदी की इस संस्था ने शिक्षा और खेल के क्षेत्र में वैश्विक स्तर पर अपना परचम लहराया है। उन्होंने कहा कि यहां की फुटबॉल टीम हर साल पंजाब में पहले नंबर पर आती है और यहां की फुटबॉल खिलाड़ी मनीषा कल्याण ने विदेशों में भारत का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि यह उनके लिए गर्व की बात है कि एन आर आई भाइयों का यह गांव उनके विधानसभा क्षेत्र में आता है। इस दौरान स्कूल के छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की मनमोहक प्रस्तुति दी।

              इस मौके पर स्कूल मैनेजर अजीत सिंह ने मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य लोगों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर उपनेता प्रतिपक्ष डा. राज कुमार चबेवाल, सांसद दिल्ली हंस राज हंस, विधायक मध्य प्रदेश सूडन पाठक, पूर्व विधायक कंवर संधू, एस डी एम प्रीतिंदर सिंह बैंस, डी एस पी दलजीत सिंह, नायब तहसीलदार अमरजीत सिंह, कुलदीप सिंह मिन्हास, यदविंदर सिंह मिन्हास, लखा सिंह पालदी, प्रिंसिपल शिव कुमार, सतविंदर सिंह, दिलबाग सिंह, उजागर सिंह बंगा के अलावा बड़ी संख्या में एनआरआई परिवार, स्कूल प्रबंधन समिति, ग्राम पंचायत, स्कूल स्टाफ, छात्र और स्थानीय निवासी उपस्थित थे। सरबजीत सिंह ने स्टेज संचालक की भूमिका बखूबी निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here