46 C
Jalandhar
Tuesday, June 18, 2024

4 महीनों में पंजाब पुलिस ने 1097 बड़ी मछलियों समेत 6997 नशा-तस्करों को किया गिरफ़्तार; 406.5 किलो हेरोइन की बरामद

न्यूज हंट. चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान द्वारा नशों को जड़ से खत्म करने के लिए शुरु की गई जंग पाँचवें महीने में दाखि़ल हो गई है, जिसके अंतर्गत पंजाब पुलिस ने 5 जुलाई 2022 से अब तक 1097 बड़ी मछलियों समेत 6997 नशा-तस्करों को गिरफ़्तार किया है। इस समय के दौरान पुलिस द्वारा 580 व्यापारिक मामलों समेत कुल 5346 एफ.आई.आर. दर्ज की गई हैं।
आज यहाँ अपनी साप्ताहिक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (आईजीपी) हैडक्वाटर सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि पुलिस टीमों ने राज्य भर के संवेदनशील स्थानों और नशा प्रभावित इलाकों में नाकाबंदी और तलाशी मुहिम चलाकर 259.7 किलोग्राम हेरोइन बरामद की है। इसके अलावा, पंजाब पुलिस की टीमों द्वारा गुजरात और महाराष्ट्र के बंदरगाहों से 147.5 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई थी, जिससे केवल चार महीनों में हेरोइन की कुल रिकवरी 406.5 किलोग्राम हो गई है।
आईजीपी ने बताया कि हेरोइन की बड़ी खेप बरामद करने के अलावा पुलिस ने राज्य भर से 300 किलो अफ़ीम, 197.2 किलो गाँजा, 293 क्विंटल भुक्की और फार्मा ओपीऑयड्ज़ की 27.56 लाख गोलियाँ/कैप्सूल/टीके/शीशियाँ भी बरामद की हैं। पुलिस ने इन चार महीनों में गिरफ़्तार किए नशा-तस्करों के कब्ज़े से 4.49 करोड़ रुपए की ड्रग मनी भी बरामद की है।
दो सप्ताह के दौरान हुई ड्रग रिकवरी के विवरणों के बारे में जानकारी देते हुए आईजीपी ने बताया कि पंजाब पुलिस ने पिछले दो हफ़्तों में 54 व्यापारिक मामलों समेत 399 एफ.आई.आर. दर्ज करके 508 नशा-तस्करों/सप्लायरों को गिरफ़्तार किया है और उनके पास से 26.5 किलो हेरोइन, 17 किलो अफ़ीम, 13.8 किलो गाँजा, 19 क्विंटल भुक्की, फार्मा ओपीऑयड्ज़ की 1.20 लाख गोलियाँ/कैप्सूल/टीके/शीशियों के अलावा 4.5 लाख रुपए की ड्रग मनी बरामद की है।
उन्होंने कहा कि 5 जुलाई, 2022 को भगौड़ों को गिरफ़्तार करने के लिए शुरू की गई विशेष मुहिम के अंतर्गत पिछले दो हफ़्तों में एनडीपीएस मामलों में 07 अन्य भगौड़े गिरफ़्तार किए जाने के साथ गिरफ़्तारियों की कुल संख्या 383 हो गई है।
गौरतलब है कि डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डी.जी.पी.) पंजाब गौरव यादव ने सभी सीपीज़/एसएसपीज़ को सख़्त हिदायतें दी थीं कि वह हरेक मामले ख़ास तौर पर ड्रग रिकवरी से सम्बन्धित मामलों में अगले-पिछले संबंधों की बारीकी से जांच करें, चाहे यह नशे की मामूली मात्रा की बरामदी ही हो।
जि़क्रयोग्य है कि पंजाब को नशा मुक्त राज्य बनाने सम्बन्धी पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के दिशा-निर्देशों के अंतर्गत पंजाब पुलिस द्वारा सरहदी राज्य पंजाब से नशे की बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए व्यापक नशा विरोधी मुहिम चलाई जा रही है। डीजीपी द्वारा सभी सीपीज़/एसएसपीज़ को सभी नामी नशा-तस्करों को काबू करने और अपने अधिकार क्षेत्रों में नशा-तस्करी वाले संवेदनशील स्थानों की पहचान करने के सख़्त आदेश दिए गए हैं। उन्होंने पुलिस प्रमुखों को यह भी हिदायत की कि पकड़े गए सभी नशा-तस्करों की जायदाद ज़ब्त की जाए, जिससे उनसे नाजायज राशि बरामद की जा सके।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,800SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles