33.9 C
Jalandhar
Thursday, April 18, 2024

Vastu Shahstra : रात पड़ने पर बिल्कुल भी न करे ये काम, मिलने लगते हैं अशुभ परिणाम

वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) में कपड़ों को रात में धोना-सुखाना हानिकारक बताया गया है। कई लोग जाने-अनजाने रात में कपड़े धोते हैं। ऐसा करना वास्तु नियमों की अनदेखी है। एक समय के बाद इसके दुष्प्रभाव दिखाई देने लगते हैं। आइए जानते हैं कपड़े धोने व सुखाने के वास्तु नियम।
वास्तु नियमों (Vastu Rules) की मानें तो रात में कपड़े धोने से घर का माहौल नकारात्मक हो जाता है। रात में कपड़ों की धुलाई कर उन्हें बाहर आसमान के नीचे सुखाने से उनमें नकारात्मक ऊर्जा प्रविष्ट कर जाती है। जब इन कपड़ों को सुबह पहना जाता है तो यह ऊर्जा हमारे जीवन पर नकारात्मक प्रभाव डालती है। हमारे कार्य में बाधा आने लगती है। मन अशांत होने लगता है। हम तनाव महसूस करने लगते हैं। यदि किसी कारणवश रात्रि में अगर कपड़े धोने भी पड़े तो उनको खुले में नहीं सुखाना चाहिए। खुले में कपड़े सुखाने से उन पर हानिकारक कीटाणु आ जाते हैं।
वास्तु शास्त्र नियमों के अनुसार, कपड़े सुबह या दोपहर में धोना चाहिए। दिन में कपड़े धोकर सुखाने से धूप के कारण नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है। सूर्य की किरणों में सकारात्मकता का वास होता है। इससे कपड़ों में मौजूद हानिकारक कीटाणु भी खत्म हो जाते हैं, इसलिए कपड़े हमेशा दिन में ही सुखाने चाहिए।
डिसक्लेमर : ‘इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है। इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।’

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
21,600SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles