गैंगस्टर लखबीर लंडा गैंग के तीन गुर्गे हथियारों समेत काबू, विरोधी गैंग के सदस्यों की करनी थी हत्या

0
100

न्यूज हंट. जालंधर : जालंधर जालंधर देहात पुलिस ने गैंगस्टर लखबीर लंडा ( Gangster Lakhbir Landa) गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए हैं। एसएसपी जालंधर (SSP Jalandhar) स्वर्णदीप सिंह ने बताया कि थाना फिल्लौर की पुलिस ने लंडा गैंग के तीन शातिरों से सात पिस्टल मैगजीन सहित 30 कारतूस, एक रिवाल्वर और एक 315 बोर पिस्टल सहित दो कारतूस और आई 20 कार बरामद की है।
एसएसपी संधू ने बताया कि फिल्लौर पुलिस ने जज्जा चौक के पास नाकाबंदी की हुई थी। इसी दौरान तेज रफ्तार कार आती दिखाई दी जिसको शक के आधार पर तलाशी के लिए रोका गया। जब कार सवारों से पूछताछ की तो उन्होंने अपना नाम लवप्रीत सिंह उर्फ लाडी निवासी गढ़शंकर, गगनदीप सिंह निवासी जालंधर और सुखविंदर सिंह निवासी गोराया बताया। जब पुलिस ने कार की तलाशी ली तो उसमें से हथियारों की खेप बरामद हुई।
पुलिस ने हथियार और कार को कब्जे में लेकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर अदालत में पेश किया जहां से उन्हें 3 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। एसएसपी संधू ने बताया कि प्राथमिक पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह तीनों अमृतसर जेल में बंद रवि बलाचौरिया निवासी होशियारपुर के गैंग के सदस्य हैं और विरोधी गैंग के सदस्यों के कत्ल की प्लानिंग बनाकर वारदात को अंजाम देने जा रहे थे। उन्हें हथियारों की सप्लाई पटियाला जेल में बंद गैंगस्टर राजवीर कौशल करवाता था जोकि रवि बलाचौरिया से मिला हुआ है और पूरी प्लानिंग गैंगस्टर लखबीर लंडा वासी हरीके की होती थी। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों से बरामद हथियार मेरठ यूपी से लाए गए थे और इनका इस्तेमाल विरोधी गैंग के सदस्यों का कत्ल करने, फिरौती मांगने और बड़ी वारदातों को अंजाम देने के लिए किया जाना था।
एसएसपी ने बताया कि बलाचौरिया गैंग के सदस्य लवप्रीत कत्ल का एक, इरादा-ए-कत्ल के 2 सहित कुल पांच केस दर्ज हैं। गगनदीप सिंह पर इरादा-ए-कत्ल का एक लूटपाट करने के तीन सहित कुल पांच केस दर्ज हैं। गगनदीप सिंह के भाई अमनदीप सिंह की बूटा पिंड कपूरथला में विरोधी गैंग के साथ लड़ाई हुई थी जिसमें उसे गोली लग गई थी, उसी का बदला लेने के लिए इन हथियारों का प्रयोग किया जाना था। इन आरोपियों की गिरफ्तारी से बड़ी गैंगवार टल गई और कई वारदातें होने से बच गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here